--Advertisement--

विरोध के चलते सौंदर्यीकरण का काम ठप

भोपाल

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 04:20 AM IST
भोपाल
कलियासोत डेम के आस-पास चल रहा सौंदर्यीकरण कार्य अचानक बंद कर दिया गया है। इसका कारण बढ़ता जनविरोध बताया जा रहा है। लगभग एक करोड़ रुपए की लागत से भोपाल विकास प्राधिकरण यहां विकास कार्य कर रहा था। बीडीए ने जिस कंपनी को डेम के आसपास के विकासकार्य करने का जिम्मा सौंपा था, उसने पहले तो बेतरतीब तरीके से काम शुरू किया। इसके चलते सुबह की सैर करने वालों को दिक्कत होने लगी थी, फिर कंपनी के निर्माण के लिए जगह-जगह जो गड्ढे खोदे थे, उसमें गिरकर सैलानी घायल हो रहे थे। कंपनी के काम करने की रफ्तार इतनी धीमी रही कि इसके विरुद्ध आसपास के रहवासियों में अंसतोष बढ़ने लगा। फिर एक दिन अचानक काम बंद कर कंपनी के करींदे गायब हो गए।

कार्य बंद करना पड़ा

 पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए बीडीए,जल संसाधन विभाग और पर्यटन विभाग मिल कर सौंदर्यीकरण कर रहे थे। बीडीए को इस कार्य के लिये एक करोड़ रुपए की राशि खर्च प्राप्त हुई थी। बीडीए ने अपने हिस्से का लगभग 70 प्रतिशत कार्य पूर्ण कर दिया है। सौंदर्यीकरण कार्य का लगातार जन आपत्ति आ रही थी। इसमें कहा गया कि डेम के आसपास के पर्यावरण को खत्म किया जा रहा है। विकास और विरोध दोनों पर एक साथ कैसे हो सकते हैं। इस वजह से विकास एवं सौंदर्यीकरण का कार्य बंद करना पड़ा। ओम यादव, अध्यक्ष, भोपाल विकास प्राधिकरण

काम पूरा करके लोगों को आने-जाने दें

 हमारा विरोध काम से नहीं, बल्कि उसमें की जा रही देरी व बेतरतीब निर्माण से है। बीडीए को चाहिए कि वह जल्दी से यह काम करवाए और लोगों की आवाजाही पर लगी रोक हटाई जाए। पार्वती शर्मा , निवासी चुना भट्टी, भोपाल