--Advertisement--

नवाचार एक ऐसी प्रक्रिया है जो निरंतर ही चलती रहनी चाहिए

न्यू इंडिया के ट्रांसफॉर्मेशन के लिए इनोवेशन की जरूरत है। स्मार्ट इंडिया हैकाथाॅन कार्यक्रम में एसआईआरटी...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 04:20 AM IST
न्यू इंडिया के ट्रांसफॉर्मेशन के लिए इनोवेशन की जरूरत है। स्मार्ट इंडिया हैकाथाॅन कार्यक्रम में एसआईआरटी सभागार में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए छात्रों से रूबरू होते हुए भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि नवाचार एक ऐसी प्रक्रिया है जो निरंतर चलती रहनी चाहिए। उन्होंने कहा कि देश को मेक इन इंडिया के तहत आगे बढ़ाने के लिए आईपीपीपी माॅडल पर काम करना होगा। आई अर्थात सेल्फ एवं इनोवेट, प्रोड्यूस, पेटेंट एवं प्राॅस्पर। देश की प्रगति के लिए इन चारों सीढ़ी पर चढ़ना होगा। जितनी जल्दी हम इनोवेशन के रास्ते पर चलेंगे, तभी प्रोडक्शन कर पाएंगें और उसी को पेटेंट कराएंगे एवं प्राॅस्पैरिटी के पथ पर चलेंगे। छात्रों को उन्होंने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, रोबोटिक्स विषय पर शोध करने की सलाह दी। शुक्रवार को रात 10.30 उन्होंने यह संदेश हैकाथॉन में काम कर रहे स्टूडेंट्स को दिया। सागर इंस्टीट्यूट आॅफ रिसर्च एण्ड टेक्नाेलाॅजी में आयोजित दो दिवसीय स्मार्ट इण्डिया हैकाथाॅन-2018 प्रतियोगिता का समापन 36 घंटे कड़े मुकाबले के बाद हुआ। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर पीएसएनए काॅलेज आॅफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नोलाॅजी की टीम पीपल विथ इनोवेशंस अपना प्रोजेक्ट इंटीग्रेटेड स्कीम मैनेजमेंट के लिये द्वितीय स्थान पर श्रीवेकेंटश्वरा काॅलेज आॅफ इंजीनियरिंग की टीम सेजिटेरियस अपने प्रोजेक्ट टेकिंग पार्किंग डेजीगनेटेड फार पीडब्ल्यूडी तृतीय स्थान पर शाह एण्ड एंकर कुच्ची इंजीनियरिंग काॅलेज की टीम डीगनीटाॅस अपने प्रोजेक्ट साइबर गार्ड: साइबर बुलिंग रिर्पोटिंग एण्ड काउंसलिंग के लिये विजयी रहे।

अतिथियों के साथ विजयी टीम के प्रतिभागी।