Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» पाइप लाइन का काम अधूरा होने से 1 साल में भी नहीं आ पाया लसूड़िया तालाब से पानी

पाइप लाइन का काम अधूरा होने से 1 साल में भी नहीं आ पाया लसूड़िया तालाब से पानी

नलजल योजना का कार्य एक साल से अधूरा है और नगर के लोग पानी के लिए परेशान हो रहे हैं। नगर परिषद अभी तक यह निर्णय नहीं कर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:20 AM IST

पाइप लाइन का काम अधूरा होने से 1 साल में भी नहीं आ पाया लसूड़िया तालाब से पानी
नलजल योजना का कार्य एक साल से अधूरा है और नगर के लोग पानी के लिए परेशान हो रहे हैं। नगर परिषद अभी तक यह निर्णय नहीं कर पा रही है कि नलजल योजना का क्या किया जाए। 50 लाख रुपए की योजना को भ्रष्ट तंत्र ने पलीता लगा दिया और अब अधिकारियों की लेट लतीफी रही-सही कसर पूरी कर रही है।

नगर की जल समस्या के समाधान करने के लिए नगर परिषद ने लसूड़िया कांगर तालाब के पास 5 बोर खनन कराए थे। इन बोर में भरपूर पानी निकला था। बोर में अच्छा पानी निकलने की खबर से नगर वासियों ने राहत की सांस ली थी, लेकिन पाइप लाइन का कार्य ठीक ढंग से नहीं होने के कारण एक साल में भी लसूड़िया तालाब से पानी इछावर नहीं पहुंच पाया है।

शिकायतों के बाद इस पूरे मामले की जांच तत्कालीन एसडीएम मेहताब सिंह के पास थी। एक साल से अधिक समय हो गया पूर्व एसडीएम व नए एसडीएम आरएस राजपूत अभी तक किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंच पाए। नगर परिषद ने पाइप लाइन का ठेका निरस्त तो कर दिया है, लेकिन नए टेंडर नहीं किए जा रहे हैं। जबकि 20 दिनों से अधिक समय हो चुके हैं नगर परिषद को ठेकेदार का टेंडर निरस्त किए हुए।

क्या होना है योजना में: शासन द्वारा लसूड़िया तालाब के पास 5बोर खनन व तालाब से इछावर तक 7 किमी पाइप लाइन के लिए 50 लाख रुपए की राशि स्वीकृत की थी । नगर परिषद ने 25 मार्च 2017 को बोर खनन कराए थे। इन सभी बोरों में 10 इंच पानी निकला था। जो इछावर नगर की जरूरत के मान से पर्याप्त था।

नगर पालिका ने पाइप लाइन का ठेका निरस्त तो किया लेकिन नया ठेका देने में लेटलतीफी

राेज 7.50 लाख लीटर पानी की जरूरत है सप्लाई के लिए

नगर की आबादी :
17 हजार

पानी सप्लाई : तीन-चार दिन छोड़कर

रोज पानी की खपत : 7.50 लाख लीटर

हैंडपंप: 38 हैंडपंप है, 30 बंद और 8 चालू

ट्यूबवेल : 14 ट्यूबवेल में से सिर्फ 4 चालू

जल सप्लाई : कांकड़खेड़ा मुख्य स्रोत है नगर में पानी सप्लाई का।

पानी की टंकी की क्षमता : गंजीबड़ वाली पानी की टंकी की क्षमता 2 लाख 70हजार

माली पुरा वाली पानी की टंकी की क्षमता: 2 लाख 30 हजार लीटर

निजी ट्यूबवेल और खेतों से पानी ले रहे लोग।

शीघ्र हो जाएगा काम शुरू

लसूडिया कांगर की नलजल योजना के ठेकेदार का ठेका निरस्त कर दिया गया है। वहीं परिषद ने निर्णय लिया है कि दूसरे नंबर पर निविदा डालने वाले ठेकेदार को कार्य के आदेश दिए जाए। इस पर वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन मांगा गया है। उम्मीद है कि शीघ्र ही कार्य प्रारंभ हो जाएगा। -रवि शंकर वर्मा, सीएमओ नगर परिषद

लोग परेशान हैं

कांकड़खेड़ा से पाइप लाइन मात्र 4 दिन में इछावर आ गई थी, लेकिन लसूड़िया से पाइप लाइन को एक साल से अधिक समय हो गया। नगर में पानी की समस्या है और लोग परेशान हो रहे है। -लाल सिंह मुकाती, समाजसेवी

इस साल अधिक दिक्कत होगी

प्रशासन को चाहिए कि गर्मी के मौसम में जल व्यवस्था अपने पास रखे। तभी नगरवासियों को पानी मिल सकता है, नहीं तो इस साल और अधिक दिक्कत होगी। -शहजादेखां, खुरपीपुरा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×