--Advertisement--

इस रेलवे स्टेशन पर लगी है सेनेटरी नैपकिन मशीन, अक्षय कुमार भी कर चुके हैं तारीफ

बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार ने कुछ दिनों पहले ट्वीट कर भोपाल रेलवे स्टेशन पर लगी सेनेटरी नैपकिन सर्विंग मशीन की तारीफ की थ

Dainik Bhaskar

Feb 09, 2018, 01:19 AM IST
देश में पहली बार नो प्रोफिट नो लॉस के कॉन्सेप्ट पर भोपाल जंक्शन पर सेनेटरी नैपकिन सर्विंग मशीन लगाई गई है। देश में पहली बार नो प्रोफिट नो लॉस के कॉन्सेप्ट पर भोपाल जंक्शन पर सेनेटरी नैपकिन सर्विंग मशीन लगाई गई है।

भोपाल. बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार ने कुछ दिनों पहले ट्वीट कर भोपाल रेलवे स्टेशन पर लगी सेनेटरी नैपकिन सर्विंग मशीन की तारीफ की थी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा था, 2018 में यह अच्छी खबर है। पूरे देश में इसकी अधिक से अधिक आवश्यकता है। गौरतलब है कि अक्षय कुमार की शुक्रवार को रिलीज हो रही फिल्म 'पैडमैन' इसी इशू पर आधारित है। इस फिल्म का काफी हिस्सा मध्यप्रदेश में ही फिल्माया गया है। नो प्रोफिट नो लॉस कॉन्सेप्ट...


- बता दें कि, पिछले दिनों, वीमेन वेलफेयर ऑर्गेनाइजेशन की ओर से देश में पहली बार नो प्रोफिट नो लॉस के कॉन्सेप्ट पर भोपाल जंक्शन पर सेनेटरी नैपकिन सर्विंग मशीन लगाई गई है।

- महिला संस्था आरुषि की पहल पर महिलाओं के लिए इस सुविधा को शुरू किया गया है, जिसमें ब्रान्डेड और कॉस्ट-ली पैड की जगह पांच रुपए में दो सेनेटरी नैपकिन से उपलब्ध होंगे।

- हाइजेनिक और स्वस्थ भारत के लिए देश में पहली बार ऐसा कदम उठाया गया है। महिला संस्था की ओर से अगर ये पहल सफल रही तो और भी अन्य स्टेशनों पर ये मशीन लगाई जाएगी।

- आरुषि की सपना गुप्ता ने बताया कि सेनेटरी मशीन पर आरुषि संस्था में तैयार इन नैपकिन की रिफिलिंग की जाती है।

- रोजाना 50 पैकेट सेनेटरी नैपकिन के उसमें रखे जाते हैं। एक पैकेट में 2 सेनेटरी नैपकिन होते है।

महिला संस्था आरुषि की पहल पर महिलाओं के लिए इस सुविधा को शुरू किया गया है। महिला संस्था आरुषि की पहल पर महिलाओं के लिए इस सुविधा को शुरू किया गया है।
ब्रान्डेड और कॉस्ट-ली पैड की जगह पांच रुपए में दो सेनेटरी नैपकिन से उपलब्ध होंगे। ब्रान्डेड और कॉस्ट-ली पैड की जगह पांच रुपए में दो सेनेटरी नैपकिन से उपलब्ध होंगे।
हाइजेनिक और स्वस्थ भारत के लिए देश में पहली बार ऐसा कदम उठाया गया है। हाइजेनिक और स्वस्थ भारत के लिए देश में पहली बार ऐसा कदम उठाया गया है।
महिला संस्था की ओर से अगर ये पहल सफल रही तो और भी अन्य स्टेशनों पर ये मशीन लगाई जाएगी। महिला संस्था की ओर से अगर ये पहल सफल रही तो और भी अन्य स्टेशनों पर ये मशीन लगाई जाएगी।
आरुषि की सपना गुप्ता ने बताया कि सेनेटरी मशीन पर आरुषि संस्था में तैयार इन नैपकिन की रिफिलिंग की जाती है। आरुषि की सपना गुप्ता ने बताया कि सेनेटरी मशीन पर आरुषि संस्था में तैयार इन नैपकिन की रिफिलिंग की जाती है।
रोजाना 50 पैकेट सेनेटरी नैपकिन के उसमें रखे जाते हैं। एक पैकेट में 2 सेनेटरी नैपकिन होते है। रोजाना 50 पैकेट सेनेटरी नैपकिन के उसमें रखे जाते हैं। एक पैकेट में 2 सेनेटरी नैपकिन होते है।
X
देश में पहली बार नो प्रोफिट नो लॉस के कॉन्सेप्ट पर भोपाल जंक्शन पर सेनेटरी नैपकिन सर्विंग मशीन लगाई गई है।देश में पहली बार नो प्रोफिट नो लॉस के कॉन्सेप्ट पर भोपाल जंक्शन पर सेनेटरी नैपकिन सर्विंग मशीन लगाई गई है।
महिला संस्था आरुषि की पहल पर महिलाओं के लिए इस सुविधा को शुरू किया गया है।महिला संस्था आरुषि की पहल पर महिलाओं के लिए इस सुविधा को शुरू किया गया है।
ब्रान्डेड और कॉस्ट-ली पैड की जगह पांच रुपए में दो सेनेटरी नैपकिन से उपलब्ध होंगे।ब्रान्डेड और कॉस्ट-ली पैड की जगह पांच रुपए में दो सेनेटरी नैपकिन से उपलब्ध होंगे।
हाइजेनिक और स्वस्थ भारत के लिए देश में पहली बार ऐसा कदम उठाया गया है।हाइजेनिक और स्वस्थ भारत के लिए देश में पहली बार ऐसा कदम उठाया गया है।
महिला संस्था की ओर से अगर ये पहल सफल रही तो और भी अन्य स्टेशनों पर ये मशीन लगाई जाएगी।महिला संस्था की ओर से अगर ये पहल सफल रही तो और भी अन्य स्टेशनों पर ये मशीन लगाई जाएगी।
आरुषि की सपना गुप्ता ने बताया कि सेनेटरी मशीन पर आरुषि संस्था में तैयार इन नैपकिन की रिफिलिंग की जाती है।आरुषि की सपना गुप्ता ने बताया कि सेनेटरी मशीन पर आरुषि संस्था में तैयार इन नैपकिन की रिफिलिंग की जाती है।
रोजाना 50 पैकेट सेनेटरी नैपकिन के उसमें रखे जाते हैं। एक पैकेट में 2 सेनेटरी नैपकिन होते है।रोजाना 50 पैकेट सेनेटरी नैपकिन के उसमें रखे जाते हैं। एक पैकेट में 2 सेनेटरी नैपकिन होते है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..