Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »Kolar Bhaskar» टेरिस पर लौकी, गमले में लगा रहे पालक, भिंडी और बैंगन

टेरिस पर लौकी, गमले में लगा रहे पालक, भिंडी और बैंगन

वहीं भिंडी, टमाटर, बे गन, गवार फली, मिर्च समेत अनेक सब्जियां छोटे-छोटे गमले में उग रही है।

bhaskar news | Last Modified - Sep 13, 2015, 12:35 AM IST

  • भोपाल।चूना भट्टी स्थित जानकी नगर में रहने वाले एग्रीकल्चर विभाग से रिटायर्ड डायरेक्टर जीएस कौशल के बंगले की टेरिस पर सब्जियां लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं। आपको जानकर हैरत होगी कि छत पर लौकी, करेले और गिल्ली की बेल में इनके ढेरों फल लगे हुए हैं। वहीं भिंडी, टमाटर, बे गन, गवार फली, मिर्च समेत अनेक सब्जियां छोटे-छोटे गमले में उग रही है।

    श्री कौशल ने बताया कि यह सब्जियां पूर्ण रूप से जैविक हैं। इनमें कोई कैमिकल व पेस्टीसाइड का इस्तेमाल नहीं किया गया है। इनके इस काम को देखकर आसपास में रहने वाले लोगों ने भी अपने घर के टेरिस पर सब्जियां लगा शुरू कर दिया है। इनसे प्रेरित होकर अमिता जैन ने भी अपने घर की टेरिस पर लौकी उगाई है। इनके घर पर करीब 12 लौकी लगी हुई हैं। यह लोकी भी जैविक खाद्य से उगाई गई हैं।

    बच्चों की तरह करते हैं देखभाल

    घर की टेरिस पर लगी इन सब्जियों के बारे में श्री कौशल ने बताया कि वह इन पौधों की देखभाल बच्चों की तरह करते हैं। टेरिस पर इस वक्त करीब आधा दर्जन लौकी लगी हुई है। इनका वजह लगभग ढाई सौ ग्राम से लेकर आधा किलो तक होगा। इसके अलावा गिल्ली और करेले की बेल में सब्जी लग रही है।

    मिट्टी में मिलते हैं जैविक खाद्य

    पौधों की मिट्टी में जैविक खाद्य मिलाई जाती है। यह खाद्य घर से निकलने वाले सामग्री से बनाई जाती है। एक बड़े बर्तन में फूल, पत्ते, खाने का सामना जो यूज नहीं होता है उसको एकत्र किया जाता है। उस बर्तन में केंचुए रहते हैं। जिनके खाने से खाद्य बनती है। उस खाद्य को मिट्टी में मिलाया जाता है। उसे यह सब्जियां उगाई जा रही है। इस प्रकार से कोई भी जैविक खाद्य बना सकता है और घर में बिना कैमिकल वाली सब्जियां उगा सकता है।
    आगे की स्लाइड्स में देखें और फोटोज...
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kolar Bhaskar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×