Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Twelve -Year-Old Pregnant Would Have An Abortion

12 साल की प्रेग्नेंट बच्ची का होगा अबॉर्शन, बोली अंडे वाले अंकल करते थे ऐसा

रेलवे स्टेशन पर मिली 12 साल की मासूम से ज्यादती के मामले में जीआरपी ने सलमान नाम के शख्स को अरेस्ट किया है।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 09, 2017, 03:10 AM IST

भोपाल.रेलवे स्टेशन पर मिली 12 साल की मासूम से ज्यादती के मामले में जीआरपी ने सलमान नाम के युवक को अरेस्ट किया है। पुलिस के मुताबिक वह भीख मांगता है, जबकि सूत्रों का कहना है कि वह होटल में काम करता है। उधर, बच्ची की हालत में सुधार हो रहा है। चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के मेंबर मोहन शर्मा ने बताया कि चार माह की प्रेग्नेंट बच्ची के अबॉर्शन का डिसीजन लिया गया है। उसके फैमिली मेंबर नहीं मिले हैं, इसलिए कमेटी ही अभिभावक बनेगी। बच्ची में खून की भी कमी है, इसलिए अबॉर्शन से पहले उसे ब्लड चढ़ाया जाएगा। इसके बाद उसे बालिका गृह में रखा जाएगा। पांच दिन से हर पल मर-मरकर जी रही थी.....
- पांच दिन से हर पल मर-मरकर जी रही 12 साल की मासूम से रेप के एक आरोपी को तो पुलिस ने अरेस्ट कर लिया लेकिन अब दूसरे आरोपियों को पकड़ने के लिए जीआरपी बच्ची को 500 अपराधियों के फोटो दिखाएगी।
- हालांकि बच्ची ने काउसिंलिंग के दौरान बताया था कि चार लोग जिम्मेदार हैं। सभी का हुलिया और टूटे-फूटे शब्दों में एक आरोपी का नाम भी लिया था।
- जीआरपी का कहना है कि कोई बेकसूर न पकड़ा जाए इसलिए हम बच्ची को 500 अपराधियों का फोटो दिखाएंगे। इन सबसे भी पहचान नहीं हो पाई तो सीसीटीवी फुटेज दिखाई जाएगी।
- इससे पहले भास्कर ने रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी खंगाले लेकिन फुटेज में कुछ खास नहीं दिखा। दूसरी ओर सुल्तानिया हॉस्पिटल में बच्ची की हालत नॉर्मल है। डॉक्टरों ने पुलिस को पूछताछ की अनुमति नहीं दी है। पुलिस का कहना है कि पूछताछ के बाद ही काफी कुछ स्पष्ट हो सकेगा।
- आशंका है कि प्लेटफाॅर्म-6 के पास खंडहरों में मासूम से ज्यादती की गई होगी। इन मकानों को डेढ़ महीने पहले बंद कर दिया गया था।
- दूसरी ओर, बच्ची ने पुलिस को बताया था कि उसे अंकल खंडहरों में ले जाते थे। इधर, नेशनल कमीशन फॉर चाइल्ड के मेंबर यशवंत जैन ने भोपाल एसपी से 3 दिन में और नेशनल कमीशन फॉर वूमन की मेंबर सुषमा साहू ने आईजी से 10 में जांच रिपोर्ट मांगा है।
इटारसी स्टेशन से गायब है बहन
- बच्ची ने जीआरपी को बताया कि उसके परिवार में पांच मेंबर हैं। दो भाई हैं, जिनमें से एक को खोजने वह भोपाल आई थी। जबकि पिता ट्रेन में चादर रखकर भीख मांगते हैं।
- विक्टिम के इस इनपुट पर जीआरपी ने उसे इटारसी रेलवे स्टेशन से गुम हुई एक लड़की का फोटो दिखाया, जिसे उसने पहचान लिया। साथ ही दिखाई गई फोटो अपनी बहन की होने के बारे में बताया।
जबलपुर में फैमिली मेंबर की तलाश शुरू..
- सीडब्ल्यूृसी के अफसरों का कहना है कि फैमिली मेंबरों को खोजने के लिए जबलपुर पुलिस को बच्ची का फोटो और एड्रेस भेजा है।
- इधर, चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के मेंबर डॉ. मोहन शर्मा ने बताया कि बच्ची द्वारा बताए गए पते पर फैमिली मेंबर नहीं मिले तो दोबारा काउंसिलिंग कर सही जानकारी ली जाएगी।
चीफ सेकेटरी ने शुरू की जांच
- 12 साल की बच्ची को आश्रय न देने के मामले में चीफ सेकेटरी ऑफ वूमेन एंड चाइल्ज वेल्फेयर जेएन कंसोटिया ने जांच शुरू कर दी है। उन्होंने वूमन एंड चिल्ड्रन वेल्फेयर कमीशन जयश्री कियावत से पहले की गई जांच की रिपोर्ट और ज्यादती से संबंधित डॉक्यूमेंट मांगे हैं।
- उन्होंने भास्कर को बताया कि मामले की जांच शुरू हो गई है। घटना के सारे पहलू और फैक्टस को देखा जाएगा। ज्यादती और हिंसा से पीड़ित हर तरह की महिला और बच्चियों को रखने का रूल हैं। उनके स्टॉफ ने ऐसा क्यों किया इसके बारे में पूछताछ की जाएगी।
आगे की स्लाइड्स में पूरे मामले को इंफॉग्राफ्स के जरिए पढ़ें.....
टीम बिना बताए ले गई बच्ची को
- इस पूरे केस में गौरवी का कहना है कि हमने जीआरपी की पूरी मदद की। बच्ची काफी घबराई हुई थी। कॉल आपरेटर ने बच्ची से बातचीत की और उसे संभाला।
- एक्शन एड की रीजनल मैनेजर सारिका सिन्हा का कहना है कि हमने बच्ची को आश्रय दिया और रेलवे चाइल्ड लाइन के एक मेंबर से रुकने को भी कहा लेकिन थोड़ी देर बाद कोई जानकारी दिए बिना टीम बच्ची को उठा ले गई। हम बच्ची का पूरा ख्याल रखेंगे।
आगे की स्लाइड्स में पूरे मामले को इंफॉग्राफ्स के जरिए पढ़ें...
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×