--Advertisement--

बाइक-साइकिल को टक्कर मारते हुए घर में घुसी कार, तीन की मौत

गुनगा इलाके के काछी बरखेड़ा जोड़ पर तेज रफ्तार कार बाइक और साइकिल को टक्कर मारते हुए सड़क किनारे एक घर में घुस गई।...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 02:26 AM IST
गुनगा इलाके के काछी बरखेड़ा जोड़ पर तेज रफ्तार कार बाइक और साइकिल को टक्कर मारते हुए सड़क किनारे एक घर में घुस गई। हादसे में बाइक सवार तीन नाबालिगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि साइकिल सवार घायल हो गया। हादसे में मारे गए तीनों नाबालिग एक ही परिवार के हैं। हादसे के दौरान बच्चे बाइक से बैरसिया से भोपाल की तरफ आ रहे थे। हालांकि एयरबैग खुलने से कार चालक बच गया।

ग्राम लहारपुर, बैरसिया निवासी गुलाटी लाल जाटव आनंद नगर में रहकर मजदूरी करते हैं। गुनगा पुलिस के अनुसार उनका 16 वर्षीय बड़ा बेटा हीरालाल जाटव मंगलवार शाम करीब 4 बजे घर से बाइक से आनंद नगर के लिए निकला था। उसके साथ उसका 12 साल का छोटा भाई जितेंद्र और 13 साल का चचेरा भाई रवि जाटव पिता सुमेर जाटव था। काछी बरखेड़ा जोड़ के पास भोपाल की तरफ से आ रही तेज रफ्तार कार (एमपी-04 सीएम 7860) ने पहले बाइक फिर साइकिल को टक्कर मार हुए सड़क से उतरकर एक घर में जा घुसी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बाइक सवार तीनों उछलकर दूर गिर गए। हादसे में हीरालाल, जितेंद्र और रवि की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि साइकिल सवार दुपड़िया निवासी राम सिंह को मामूली चोटें आई हैं। कार चालक को काफी चोटें आई हैं।

कार को बचाने के चक्कर में खंभे से टकराई लो फ्लोर

भोपाल| बीसीएलएल की ओर से संचालित टीआर-1 रूट की लो फ्लाेर बस एमपी 04 पीए 1335 मंगलवार रात हबीबगंज स्टेशन की ओर से आ रही थी। बस का एक पहिया पंचर होने के कारण बस खाली ही आईएसबीटी पर खड़े होने के लिए जा रही थी। बस मानसरोवर कॉम्प्लेक्स तिराहे पर पहुंची तभी डेडिकेटेड लेन में सामने की ओर से तेज रफ्तार कार आ रही थी। कार को बचाने के चक्कर में बस तिराहे पर लगे ट्रैफिक सिग्नल के खंभे से टकरा गई। इससे खंभे के साथ ही बीआरटीएस लेन की रेलिंग भी टूट गई। बीसीएलएल ने डेडिकेटेड लेन में बने बस स्टॉप पर लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले लेकिन कार की पहचान नहीं हो सकी है।

एयरबैग खुलने से बच गया कार का ड्राइवर

हेलमेट पहने होते तो बच सकती थी एक जान

हादसे के दौरान 16 वर्षीय हीरालाल बाइक चला रहा था। एसआई सिंह के अनुसार कार की टक्कर के बाद तीनों बाइक से दूर फिक गए। तीनों के सिर पर ही गंभीर चोटें आई हैं। अगर एक ने भी हेलमेट पहने हुए होता तो उसकी जान बच सकती थी।