भोपाल / पिता सचिन तेंदुलकर की 10 नंबर जर्सी पहनकर खेल रहे अर्जुन को कैच छोड़ने पर हूटिंग का सामना करना पड़ा

10 नंबर जर्सी सचिन ने आखिरी बार 2012 में पाक के खिलाफ वन डे में पहनी।
X

  • पिता की तरह ही जर्सी नंबर-10 पहनकर खेलने उतरे अर्जुन, 3 ओवर में 20 रन दिए, 1 विकेट लिया, दो कैच पकड़े
  • इस मैच में डीवाई पाटिल मुंबई की टीम ने भोपाल वॉरियर्स को 15 रनों से हराया, शार्दुल ठाकुर भी एक बार हो चुके हैं ट्रोल

दैनिक भास्कर

Mar 13, 2020, 01:51 PM IST

भोपाल (कृष्ण कुमार पाण्डेय). सचिन तेंडुलकर के बेट अर्जुन को गुरुवार को भोपाल वॉरियर्स और डीवाई पाटिल अकादमी के बीच खेले गए मैच में दर्शकों की हूटिंग का सामना करना पड़ा। जब वे फील्डिंग के दौरान 16वें ओवर में प्रत्युष चटर्जी का कैच जज नहीं कर पाए। दरअसल, अर्जुन फाइन लेग की दिशा में फील्डिंग कर रहे थे तभी सुबोध भाटी की उछालभरी गेंद बल्ले का टॉप एज लेकर शॉर्ट फाइन लेग के ऊपर खड़ी हो गई। लेकिन अर्जुन ने स्टार्ट नहीं लिया और कैच जज नहीं कर सके। परिणाम स्वरूप कैच छूटा। उसकी अगली ही गेंद में इसी दिशा में अर्जुन ने एक और कैच छोड़ा। ऐसे में दर्शकाें ने हूटिंग करते हुए कहा- पापा गुस्सा होंगे। हालांकि इसके तुरंत बाद में अगली गेंद में स्लिप की दिशा में कैच पकड़ा। 

मुंबई ने भोपाल वैरियर्स को 15 रनों से हराया
इस मैच में डीवाई पाटिल मुंबई की टीम ने भोपाल वॉरियर्स को 15 रनों से हराया। इस मैच में बाएं हाथ के तेज गेंदबाज अर्जुन ने अपनी गेंदबाजी में एक दिन पहले खेले गए मैच के मुकाबले काफी सुधार दिखाया। उन्होंने तीन ओवर में 20 रन देकर 1 विकेट हासिल किया। बुधवार को भी उन्होंने एक विकेट हासिल किया था, लेकिन दो ओवर में ही 25 रन खर्च कर दिए थे। अर्जुन पारी का 11वां ओवर करने आए और इस ओवर में तीन डाॅट सहित तीन रन दिए। फिर अपने अगले ओवर की तीसरी गेंद में गौतम रघुवंशी को कप्तान अब्दुल्ला के हाथ कैच कराया। इस ओवर में सात रन दिए। तीसरे ओवर में अर्जुन ने 10 रन खर्च किए।

3 गेंदों में 2 कैच टपकाए, 1 लपका
अर्जुन 16वें ओवर में प्रत्युष चटर्जी का कैच जज नहीं कर पाए। वह फाइन लेग पर फील्डिंग कर रहे थे तभी सुबोध भाटी की उछालभरी गेंद बल्ले का टॉप एज लेकर शॉर्ट फाइन लेग के ऊपर खड़ी हो गई। अर्जुन स्टार्ट नहीं ले पाए, जिससे कैच जज नहीं हुआ और टपक गया। अगली ही गेंद पर उसी जगह उन्होंने एक बार फिर कैच छोड़ा। इसके बाद कप्तान ने उन्हें तुरंत स्लिप पर लगा दिया और अगली ही गेंद पर कैच भी वहीं आया और अर्जुन ने उसे लपकने में कोई गलती नहीं की। अगले ओवर में अर्जुन ने एक और बेहतरीन कैच पकड़ा।

क्रिकेट का मैदान और 10 नंबर की जर्सी... यादें सीधे सचिन तेंडुलकर पर जाकर टिकती हैं। रातीबड़ में चल रहे ऑल इंडिया फेथ कप टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट में एक बार फिर यह यादें ताजा हो गईं, जब 10 नंबर की ही जर्सी पहने एक और तेंडुलकर मैदान पर नजर आया... अर्जुन तेंडुलकर, सचिन का बेटा। गुरुवार को यहां खेले गए मुकाबले में अर्जुन डीवाई पाटिल अकादमी की ओर से खेलने उतरे। बुधवार को खेले गए मैच में भी अर्जुन खेले थे, लेकिन जर्सी पर कोई नंबर नहीं था। 

शार्दुल हुए थे ट्रोल: शार्दुल ठाकुर ने वनडे डेब्यू में श्रीलंका के खिलाफ 10 नंबर जर्सी पहनी थी। वह सोशल मीडिया पर ट्रोल हुए थे। उन्होंने कहा था कि उनकी जन्मतिथि 16.10.1991 है, जिसका जोड़ 10 बनता है, इसलिए उन्होंने जर्सी पहनी। इंटरनेशनल क्रिकेट से किसी खिलाड़ी के सम्मान में किसी जर्सी नंबर को रिटायर नहीं किया गया है। हालांकि मुंबई इंडियंस ने सचिन के रिटायरमेंट के बाद 10 नंबर जर्सी को रिटायर कर दिया था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना