मध्य प्रदेश / भोपाल भाजपा के दो पर्व विधायक हुए बागी, हूजूर से जितेंद्र डागा और बैरसिया से ब्रह्मानंद ने भरा नामांकन



assembly election 2018
X
assembly election 2018

  • बिगड़ सकते हैं भाजपा के समीकरण
  • वर्तमान विधायको की जगह चाहते टिकट

 

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 06:04 PM IST

भोपाल। नामांकन के आखिरी दिन भोपाल के दो पूर्व विधायकों बागी हो गए। पार्टी से टिकट नहीं मिलने से नाराज हुजूर सीट से पर्व जितेंद्र डागा और बैरसिया से ब्रह्मानंद रत्नाकर ने निर्दलीय नामांकन दाखिल कर दिया। हालांकि ये दोनों चुनावी मैदान में रहेंगे या नहीं ये नाम वापस लेने वाले दिन ही तय होगा।  

 

बैरसिया से भाजपा ने विष्णु खत्री को रिपीट किया है। विष्णु संघ के प्रचारक रह चुके हैं। दूसरी बार टिकट मिलने पर वह पूर्व विधायक ब्रह्मानंद रत्नाकर को मनाने उनके घर भी गए थे। लेकिन आज रत्नाकर ने नामांकन दाखिल कर दिया। नामांकन दाखिल करने के बाद रत्नाकर ने कहा कि उन्होंने क्षेत्र की जनता के कहने पर ही नामांकन दाखिल किया है। उन्होंने दावा किया है कि वे पचास हजार से ज्यादा मतों से जीतेंगे।

 

इधर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के करीबी जितेंद्र डागा ने भी हुजूर विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल किया है। 2008 में जितेंद्र डागा को सुषमा स्वराज के कहने पर ही टिकट मिला था। विधायक बनने के बाद उनका नाम बीडीए सीईओ रुसिया की हत्या के मामले में आने के बाद 2013 में पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया था। डागा की जगह भाजपा ने रामेश्वर शर्मा को प्रत्याशी बनाया था। डागा इस बार फिर टिकट की मांग कर रहे थे। लेकिन भाजपा ने रामेश्वर को फिर से मौका दिया।

COMMENT