मप्र / एसडीएम को कुचलने का प्रयास, रेत से भरा डंपर छुड़ा ले गया जनपद अध्यक्ष

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 11:21 AM IST



आयुषि जैन आयुषि जैन
X
आयुषि जैनआयुषि जैन

  • पन्ना में जपं. अध्यक्ष ने घर पर खाली कराया डंपर, पुलिस देखती रही
  • एसडीएम बोलीं- वे पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट नहीं

पन्ना. रेत से भरे एक डंपर (हाइवा) ने सुबह साढ़े 11  बजे एसडीएम को कुचलने की कोशिश की, वहीं कुछ ही देर में ट्रक मालिक अजयगढ़ जनपद अध्यक्ष भरत मिलन पांडे उनके कब्जे से बलपूर्वक ट्रक छीन कर ले गया। साथ ही उन्हें धमकी भी दी। एसडीएम आयुषि जैन की शिकायत पर अजयगढ़ थाना में वारदात के करीब 7 घंटे बाद शाम को 7 बजे भरत मिलन पांडेय के खिलाफ केस दर्ज किया गया।

 

गुरुवार को सुबह करीब साढ़े 11 बजे एसडीएम आयुषि जैन किसी सरकारी काम से माधौगंज से करतल रोड पर अपने वाहन से जा रही थीं। माधौगंज और पेट्रोल पंप के पहले उनके वाहन को रेत से भरा डंपर क्रास करते हुए निकला। एसडीएम ने उसे रोकना चाहा लेकिन वह नहीं रूका।

 

एसडीएम ने अपने वाहन को डंपर के पीछे लगा दिया और माधौगंज वन बैरियर पर उन्होंने अपना वाहन डंपर के आगे लगा कर उसे रोकने का प्रयास किया तो ड्राइवर ने एसडीएम के वाहन को टक्कर मारने का प्रयास किया, लेकिन एसडीएम के ड्राइवर ने गाड़ी आगे बढ़ा दी और अंगरक्षक ने तत्परता से डंपर ड्राइवर को काबू में किया।

 

उसी समय एक मोटर साइकिल पर सवार 2 व्यक्ति आए और डंपर ड्राइवर को एक कागज थमाया। करीब 1 मिनट बाद ही अजयगढ़ जनपद अध्यक्ष भरत मिलन पांडे आया और एसडीएम से बाेला यह है रवन्ना (कागजात), मैं डंपर को ले जा रहा हूं।

 

भरत मिलन ने अपने निवास के पास कैंपस में ले जाकर डंपर को खाली करा दिया। एसडीएम की शिकायत पर एसपी के निर्देश पर अजयगढ़ थाना प्रभारी डीएस परमार ने जनपद अध्यक्ष भरत मिलन पांडेय के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने उसकी जल्द गिरफ्तार करने की बात कही है। 

 

पुलिस की कार्रवाई ठीक नहीं: एसडीएम

एसडीएम आरुषि जैन का कहना है कि पुलिस की कार्रवाई ठीक नहीं है। उनके सूचना देने पर भी पुलिस देर पहुंची। पुलिस की मौजूदगी में डंपर से रेत को खाली किया गया लेकिन पुलिस ने डंपर और रेत को जब्त नहीं किया। अब प्रकरण दर्ज हो गया है, लेकिन न तो रेत और डंपर को जब्त किया गया है और न ही आरोपी की गिरफ्तारी की गई है। 

 

झूठा केस दर्ज कराया :
इस मामले में आरोपी भरत मिलन पांडेय ने एसडीएम आयुषि जैन के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उसने उनके साथ किसी प्रकार की अभद्रता नहीं की है। उस पर झूठा मुकदमा दर्ज कराया गया है। आरोप बेबुनियाद हैं।

COMMENT