• Hindi News
  • Mp
  • Bhopal
  • Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates]; Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts

मप्र / अयोध्या फैसले का असर, भोपाल में जय गुरुदेव समागम स्थगित; पूरे राज्य में निषेधाज्ञा लागू



Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts
Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts
Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts
Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts
Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts
X
Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts
Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts
Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts
Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts
Ayodhya Ram Mandir Verdict [MP Bhopal Live Updates];  Section 144 imposed in Madhya Pradesh Districts

  • मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अयोध्या पर फैसला आने के बाद लोगों से शांति और सौहार्द्र बनाए रखने की अपील की 
  • स्कूल-कॉलेज और शैक्षणिक संस्थाएं बंद, सड़कों पर आम दिनों से कम वाहन निकल रहे 
  • मुख्यमंत्री कमलनाथ पुलिस हेडक्वार्टर पहुंचकर रखेंगे प्रदेश के हालात पर नजर 
  • जय गुरुदेव समागम में भाग लेने भोपाल 10 हजार लोग पहुंचे थे

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2019, 07:03 PM IST

भोपाल. अयोध्या मामले में शनिवार को सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद राजधानी भोपाल समेत संपूर्ण मध्यप्रदेश में प्रशासन पूरी तरह चौकस और सतर्क है। भोपाल के भेल दशहरा मैदान में आज से होने वाला तीन दिवसीय जय गुरुदेव समागम स्थगित, इसमें भाग लेने 10 हजार श्रद्धालु पहुंचे थे। वहीं राज्य के सभी 52 जिलों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है।

 

अयोध्या के फैसले का असर राजधानी समेत राज्य में दिख रहा है। भोपाल में सुबह से बाजार बंद, सड़कों में आम दिनों से कम वाहन निकल रहे। इधर, ब्यावरा में वैष्णव दिगंबर अखाड़े के महंत राधामोहन शास्त्री को फैसला सुनते ही खुशी से दिल का दौरा पड़ गया। थोड़ी देर बाद उनकी मौत हो गई।

 

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं। सीएम थोड़ी देर में राज्य में सुरक्षा-व्यवस्था को लेकर उच्च स्तरीय बैठक करने वाले हैं। वे पीएचक्यू जाएंगे और वहीं से प्रदेश के हालात पर नजर रखेंगे। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ट्वीट करके कहा है कि हम सभी मिल-जुलकर फैसले का सम्मान और आदर करें। किसी प्रकार के उत्साह, जश्न और विरोध का हिस्सा ना बने। अफवाहों से सावधान व सजग रहें। किसी भी प्रकार के बहकावे में ना आएं। 

 

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा हम सब सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करें किसी की हार नहीं हुयी। हमारा देश ऐतिहासिक देश है, हम सबसे शांति की अपील करते है। शांति सौहार्द्र बनाए रखें और मप्र को शांति का टापू बनाए रखें।

 

गृहमंत्री से कानून व्यवस्था को लेकर चर्चा 

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बताया कि कानून व्यवस्था के मुद्दे पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से आज उनकी चर्चा हुयी है। केंद्र सरकार ने किसी भी प्रकार की सहायता मुहैया कराने की पेशकश की है, लेकिन मप्र को फिलहाल इसकी आवश्यकता नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अपने स्तर पर ठोस उपाय किए हैं और पुलिस इस पर बेहतर ढंग से कार्य कर रही है। किसी प्रकार की अप्रिय घटना की सूचना नहीं हैं। पांच-छह छिटपुट घटनाएं सामने आयी हैं, लेकिन उनमें से भी एक दाे का तो इस फैसले से कोई लेना देना नहीं है। 

 

आज स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी
राज्य के सभी स्कूलों, महाविद्यालयों, मदरसों, आंगनवाड़ियों और अन्य शैक्षणिक संस्थाओं में अवकाश है। संवेदनशील माने जाने वाले स्थानों पर पुलिस बल तैनात है और सभी क्षेत्रों में पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी नजर रखे हुए हैं। लोग अपने सभी कार्य सामान्य रूप से कर सकते हैं। 

 

कहीं भी कोई तनाव की स्थिति निर्मित होती है तो उसकी सूचना तत्काल पुलिस-प्रशासन को दें। इसके अलावा दूध, ईंधन, पब्लिक ट्रांसपोर्ट और एंबुलेंस जैसी सभी तमाम सेवाएं भी आम दिनों की तरह ही जारी रहेंगी। कलेक्टर ने एक अन्य आदेश में सभी पेट्रोल-डीजल पंप संचालकों को निर्देश दिए हैं कि खुली बॉटल या अन्य किसी बर्तन में पेट्रोल-डीजल न दें।

 

नफरत और वैमनस्यता को परास्त करें: कमलनाथ   
अयोध्या मामले पर फ़ैसला आ चुका है। एक बार फिर आपसे अपील करता हुं कि सर्वोच्च न्यायालय के इस फ़ैसले का हम सभी मिलजुलकर सम्मान व आदर करे। आपसी भाईचारा, संयम, अमन-चैन, शांति, सद्भाव व सौहार्द्र बनाए रखने में पूरा सहयोग करें। सरकार प्रदेश के हर नागरिक के साथ खड़ी है। क़ानून व्यवस्था व अमन-चैन से खिलवाड़ करने वाले किसी भी तत्व को बख़्शा नहीं जाएगा। पूरे प्रदेश में पुलिस प्रशासन को ऐसे तत्वों पर सख़्ती से कार्यवाही के निर्देश पूर्व से ही दिये जा चुके है। आज आवश्यकता है अमन व मोहब्बत के पैग़ाम को सभी तक फैलाएं, नफ़रत व वैमनस्य को परास्त करें।

 

 

जय गुरुदेव का समागम स्थगित 
जय गुरुदेव की तरफ से भेल दशहरा मैदान में होने वाले समागम को स्थगित कर दिया गया है। इस समागम में भाग लेने के लिए देशभर से 10 हजार लोग पहुंचे थे, बाकी जो लोग यहां भाग लेने के लिए आ रहे थे, उन्हें लौटने के लिए कहा गया है। जय गुरुदेव उमाकांत तिवारी ने श्रद्धालुओं से दो मिनट की बात की और उन्हें जाने के लिए कहा। इधर, गुरु नानक देव की 550वीं प्रकाश पर्व पर निकलने वाली नगर कीर्तन को भी स्थगित कर दिया गया है। 

 

आतिशबाजी कर रहे पुजारी को पुलिस ले गई थाने
अयोध्या पर फैसला आने के बाद कुछ लोग लक्ष्मीपुरा पाएगा के पास इकट्ठे हुए। इसी बीच चंपा बाग मंदिर के पुजारी आतिशबाजी करने लगे। इस पर उन्हें मोती नगर थाना प्रभारी संगीता सिंह राउंड पर थी। वह मौके पर पहुंचीं, टीआई के दल ने पुजारी को पकड़ लिया और थाने ले गई थी। बाद में पुजारी ने थाने में लिखित में माफीनामा दिया है। 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना