--Advertisement--

ग्वालियर में बहू ने लगाया रेप का आरोप, दुखी ससुर ने शर्मिंदगी में लगाई फांसी

मृतक के बेटे का कहना है उसकी पत्नी ने उसके पिता के खिलाफ झूठा मामला दर्ज कराया है।

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 11:03 AM IST
बहू के आरोपों से परेशान ससुर ने घर की छत पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। बहू के आरोपों से परेशान ससुर ने घर की छत पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।

ग्वालियर. शहर के थाटीपुर इलाके में बहू द्वारा रेप का मामला दर्ज कराने से दुखी ससुर ने शर्मिंदगी से बचने के लिए फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। थाटीपुर थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मृतक रमेशचंद्र रजक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है।

-जानकारी के अनुसार, थाटीपुर थाने के जीवाजी नगर में रहने वाले रमेश बाथमी ने गुरुवार सुबह अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। दरअसल, रमेश के खिलाफ उनकी बहू ने थाने में रेप का मामला दर्ज कराया था। मामला बुधवार को रात 12 बजे दर्ज हुआ था। इसके बाद सुबह घर की छत पर केबल से फांसी लगा ली। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

- इस मामले में मृतक के बेटे का कहना है कि उसकी पत्नी ने उसके पिता के खिलाफ झूठा मामला दर्ज कराया है, जिसके चलते उन्होने खुदकुशी कर ली। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस के बताया कि बहू ने बुधवार को थाटीपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी. जिसमें ससुर रमेश पर 29 अप्रैल को जब परिवार के लोग एक शादी के सिलसिले में बाहर गए थे तो ससुर ने मेरे साथ रेप किया।

-वहीं, परिवार वालों का कहना है कि आरोप लगाने वाली बहू 11 मई को रिश्तेदार के साथ लापता हो गई थी और लौटने के बाद बुधवार को रेप की एफआईआर दर्ज कराई है। थाटीपुर थाना पुलिस ने परिजनों के बयान दर्ज कर मामले की विस्तृत जांच शुरू कर दी है।

यह मामला दर्ज कराया
- टीआई रविंद्र गुर्जर के अनुसार, रमेश चंद्र के परिवार की महिला सदस्य ने थाने में कहा कि 29 अप्रैल को परिवार के सदस्य शादी समारोह में गए थे। इस दौरान वह घर में अकेली थी। रमेश चंद्र रात लगभग 2 बजे उसके कमरे में पहुंच गए और जान से मारने की धमकी देकर दुष्कर्म कर दिया। यह बात परिवार को भी बताई थी। लेकिन किसी ने उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया बल्कि बंधक और बना लिया। 15 मई को मौका मिला और वह अपने दो बच्चों सहित बानमोर स्थित मायके चली गई और घटना की जानकारी भाई को दी।

पिता को फंसाया गया है, वह व्यथित थे
- मेरे पिता के खिलाफ दुष्कर्म का झूठा मामला दर्ज कराया गया है। मामला दर्ज कराने वाली महिला 11 मई को ही घर छोड़कर चली गई थी, वह भी अपने रिश्ते के जेठ के साथ। उसके साथ महिला के संबंध दोस्ताना थे। इसकी गुमशुदगी रिपोर्ट भी थाने में दर्ज कराई गई थी। महिला से आचरण सुधारने के लिए पिता ने कहा था। शायद इसलिए ही उन्हें झूठे आरोप में फंसा दिया गया है। इस आरोप के बाद से ही पिता व्यथित थे। पुलिस ने मुझे शाम से ही थाने में बैठा लिया था। रात 8.30 बजे पिता रमेश चंद्र ने उसे फोन किया था और कहा था वह भी थाने आ रहे हैं। इस दौरान वह रो भी रहे थे। इसके बाद सुबह उनकी मौत की खबर ही आई, तब पुलिस ने उसे छोड़ा। - ब्रजेंद्र, मृतक का बेटा

मृतक के बेटे का कहना है कि बहू झूठा प्रकरण दर्ज कराया है। मृतक के बेटे का कहना है कि बहू झूठा प्रकरण दर्ज कराया है।
X
बहू के आरोपों से परेशान ससुर ने घर की छत पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।बहू के आरोपों से परेशान ससुर ने घर की छत पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।
मृतक के बेटे का कहना है कि बहू झूठा प्रकरण दर्ज कराया है।मृतक के बेटे का कहना है कि बहू झूठा प्रकरण दर्ज कराया है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..