--Advertisement--

भोपाल / गर्लफ्रेंड पर कमेंट से खफा दोस्तों ने किया कार पर पथराव, दो को घायल कर भागे मनचले



bhopal comment of girlfriend lead to stone pelting on car
X
bhopal comment of girlfriend lead to stone pelting on car

  • वारदात नादरा बस स्टैंड पर दोस्तों के साथ रात साढ़े तीन बजे खाना खाने पहुंची थी छात्रा 
  • नंबर के आधार पर पुलिस को मिसरोद में मिली कार, फरियादी बोले- वारदात में उपयोग नहीं की गई थी यह कार 

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 01:10 PM IST

भोपाल. नादरा बस स्टैंड पर दोस्तों के साथ खाने पहुंची बीएचएमएस की छात्रा पर कार सवार मनचलों ने फब्तियां कस दीं। छात्रा ने विरोध किया तो आरोपी पहले भड़के फिर वहां से चले गए। नाराज छात्रा दोस्तों के साथ आरोपियों को पकड़ने के लिए रेलवे स्टेशन तिराहा पहुंची। आरोपियों को आते देख उनकी कार पर पत्थर बरसाए, लेकिन बचने के लिए आरोपी छात्रा के दो दोस्तों को टक्कर मारते हुए फरार हो गए। 

 

बागसेवनिया निवासी 28 वर्षीय अपूर्व दुबे सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। एसआई मंगलवारा उमेश चौहान के अनुसार गुरुवार तड़के करीब साढ़े तीन बजे अपूर्व अपने तीन दोस्तों और दो छात्राओं के साथ खाना खाने नादरा बस स्टैंड गया था। एक युवती बीएचएमएस छात्रा है, जबकि दूसरी बीयू से ग्रेजुएशन कर रही है। यहां कार सवार तीन युवकों ने बीएचएमएस छात्रा को देखकर फब्तियां कस दीं। छात्रा ने नाराजगी जाहिर की तो आरोपी वहां से चले गए। उनकी हरकत से नाराज छात्रा अपूर्व, प्रतीक, अखिल खरे और अन्य दोस्तों के साथ रेलवे स्टेशन तिराहा आ गई। तभी आरोपियों की कार उनकी ओर आती नजर आई। उसे रोकने के लिए कार पर पत्थर फेंके, जिससे उसका एक कांच फूट गया। 


जानबूझकर दो युवकों को मार दी टक्कर और फरार हो गए आरोपी 
पुलिस के मुताबिक खुद पर पथराव होते देख आरोपियों ने रफ्तार बढ़ाई और प्रतीक व अखिल को कार से टक्कर मार दी। इसके बाद आरोपी वहां से फरार हो गए। अन्य दोस्तों ने अखिल और प्रतीक को गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचाया, जहां उनका इलाज जारी है। प्रतीक लघु फिल्मों का एक्टर है, जबकि अखिल इंजीनियरिंग छात्र है। बीएचएमएस छात्रा मूलत: हरियाणा की रहने वाली है और दूसरी कोलकाता की। 

 

रातभर में कैसे सुधरवाया कांच, अब सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही पुलिस 
एसआई चौहान ने बताया कि इस मामले में मारपीट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। छात्राओं द्वारा बताए गए नंबर की जानकारी निकाली तो कार मिसरोद स्थित एक पते की निकली। ये कार एक पुजारी की है। हालांकि, इस कार को लेकर अपूर्व का कहना है कि रंग व नंबर सही है, लेकिन ये वो कार नहीं है। क्योंकि हमने जब पत्थर मारा तो कार का एक कांच फूट गया था। वहीं, मालिक का कहना है कि कार बीते चार दिन से घर पर ही खड़ी है। अब पुलिस सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगाल रही है। 

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..