भोपाल / कठघरे में खड़ा बेबी का गुनहगार बोला- मुझे बचाने कोई भी नहीं आने वाला....फांसी दे दो



bhopal minor rape case
X
bhopal minor rape case

  • पुलिस ने इस मामले में 40 लोगों को गवाह बनाया गया है
  • 108 पेज का है चालान, हर दिन होगी इस मामले की सुनवाई

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 11:10 AM IST

भोपाल। कठघरे में खड़ा बेबी का गुनहगार बोला- मुझे बचाने कोई भी नहीं आने वाला....फांसी दे दो

 
भोपाल। कमला नगर की मांडवा बस्ती में नौ साल की बेबी से दुष्कर्म और बाद में हत्या करने वाले विष्णु प्रसाद भमौरे के खिलाफ राजधानी पुलिस ने बुधवार शाम जज कुमुदनी पटेल की कोर्ट में चालान पेश किया। पुलिस ने इस मामले में 40 लोगों को गवाह बनाए जाने की जानकारी दी है। 

 

चालान के दौरान जज कुमुदनी पटेल की कोर्ट में आरोपी विष्णु से सवाल - जवाब भी किए। इस दरम्यान विष्णु के चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी। जज के सामने वह कभी खुद को गुनहगार बताते हुए फांसी की मांग करता तो कभी कोर्ट को गुमराह करने वाली बातें कर रहा था। बुधवार को दुष्कर्म और हत्या के आरोपी को कोर्ट में पेश करने से पहले भारी पुलिस बल तैनात किया गया। कोर्ट में एक एएसपी, सीएसपी, चार टीआई, पांच एसआई और स्थानीय पुलिस के साथ बड़ी संख्या में स्पेशल बल तैनात किया गया था। अदालत में पेश चालान के रजिस्ट्रेशन के लिए गुरुवार की तारीख तय की है। 

 
कोर्ट रूम लाइव... 
जज कुमुदनी पटेल- तुम्हारे घर से कोई नहीं आया? 
विष्णु - मेरे घर में सिर्फ मां है, मुझे बचाने कोई नहीं आने वाला। 
जज- तुमने अपने लिए कोई वकील किया है क्या? 
विष्णु- मुझे पता चला है कि मेरे लिए कोई वकील पैरवी नहीं करने वाला। 
जज- तुम्हें विधिक सहायता से वकील दिलवाया जाए? 
विष्णु- जी, दिलवा दिया जाए। 
जज- तुमने बुरा काम किया? 
विष्णु- मुझसे गलती हो गई आप मुझे फांसी दे दीजिए मैडम। मैं नशे में था, मुझसे गलत काम हो गया। 
जज- पुलिस को कोई मेमोरेंडम दिया है? 
विष्णु- नहीं। 
जज- तुम्हारे खिलाफ मुकदमा चलेगा। तुम्हें सुनवाई का मौका दिया जाएगा? 
(इसके बाद विष्णु कठघरे में मौन खड़ा रहा रहा, उसने कोई जबाव नहीं दिया।)

 

रोज होगी सुनवाई... जिला अभियोजन की मीडिया प्रभारी सुधा विजय सिंह भदौरिया ने बताया कि अदालत में जो चालान पेश किया है उसमें कुल 108 पन्ने हैं। इसमें भदभदा स्थित रीजनल फोरेंसिक साइंस लैब (आरएफएसएल) की रिपोर्ट भी अदालत में पेश की गई है। भदौरिया ने बताया कि आरएफएसएल रिपोर्ट से आरोपी के अपराध किए जाने की पुष्टि होती है। इस मामले की रोजाना सुनवाई होगी। आरोपी विष्णु के खिलाफ पेश चालान में 37 साक्ष्यों को भी शामिल किया गया है। लाख का चेक सौंपेंगे। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पीड़ित परिवार को पांच लाख की आर्थिक मदद देने घोषणा की थी। शर्मा ने बताया कि पीड़ित परिवार की पूरी मदद की जाएगी। 

COMMENT