--Advertisement--

मई का पहला दिन... 105 किमी की रफ्तार से आंधी, एक गेंट्री और 15 से ज्यादा पेड़ गिरे

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि कुंबलो निंबस यानी गरज- चमक वाले बादलों से बाहर तेजी हवा आई।

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 01:36 AM IST
^मैं गौरव और फईम को छोड़ने खानूगांव जा रहा था। तभी बाणगंगा चौराहे पर गेंट्री मेरी गाड़ी पर आकर गिरी। इससे आगे का हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ। - शुभम जाटव (ब्लैक टी-शर्ट में ) ^मैं गौरव और फईम को छोड़ने खानूगांव जा रहा था। तभी बाणगंगा चौराहे पर गेंट्री मेरी गाड़ी पर आकर गिरी। इससे आगे का हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ। - शुभम जाटव (ब्लैक टी-शर्ट में )

भोपाल. मई का स्वागत तपिश आैर आंधी के साथ हुअा। दिनभर गर्म हवा चली, पारा भी 42.6 डिग्री पर जा पहुंचा। शाम 4.45 बजे से बादल छाने लगे आैर थाेड़ी ही देर बाद 105 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी चलने लगी। इस दौरान अलग-अगल स्थानों पर 15 से ज्यादा पेड़ गिरे और बाणगंगा चौराहे पर लगी एक अवैध गेंट्री धराशायी हो गई। मौसम एक्सपर्ट एसके नायक ने बताया कि शहर में मंगलवार शाम दो चरणों में धूल भरी आंधी चली। पहले चरण में 6.34 बजे इसकी रफ्तार 85 किमी प्रति घंटे थी। यह पूर्वी हवा थी। दूसरे चरण में 7.43 बजे 105 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चली।

गरज-चमक वाले बादलों से बाहर निकली थी इतनी तेज हवा

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि कुंबलो निंबस यानी गरज- चमक वाले बादलों से बाहर तेजी हवा आई। इसमें नमी की मात्रा कम थी। इसलिए धूल भरी आंधी भी चली। इन बादलों में एक तरफ से हवा अंदर जाती है और दूसरी तरफ से बाहर आती है। मंगलवार शाम इन बादलों से जो हवा बाहर आई उसकी रफ्तार 105 किमी प्रति घंटे थी।

गेंट्री इसलिए खतरनाक

स्ट्रक्चरल इंजीनियर शैलेन्द्र बागरे ने बताया कि गेंट्री का फेलुअर बेस से ही है। पूरे शहर में एक जैसे बेस बना दिए हैं, जबकि जमीन का स्केटा अलग-अलग होता है। जो गेंट्री गिरी है उसमें स्टील का कालम ट्विस्ट हुआ है। इससे साफ है कि यह गेंट्री विंड प्रेशर के हिसाब से डिजाइन नहीं है। यह शहर के लिए बेहद खतरनाक है।

बाणगंगा चौराहा... आंधी में यहां स्थित एक अवैध गंेट्री गिर गई। नगर निगम के टेंडर में इसका जिक्र नहीं है। बाणगंगा चौराहा... आंधी में यहां स्थित एक अवैध गंेट्री गिर गई। नगर निगम के टेंडर में इसका जिक्र नहीं है।
पीसीसी दफ्तर...कार-बाइक क्षतिग्रस्त। पीसीसी दफ्तर...कार-बाइक क्षतिग्रस्त।
X
^मैं गौरव और फईम को छोड़ने खानूगांव जा रहा था। तभी बाणगंगा चौराहे पर गेंट्री मेरी गाड़ी पर आकर गिरी। इससे आगे का हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ। - शुभम जाटव (ब्लैक टी-शर्ट में )^मैं गौरव और फईम को छोड़ने खानूगांव जा रहा था। तभी बाणगंगा चौराहे पर गेंट्री मेरी गाड़ी पर आकर गिरी। इससे आगे का हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ। - शुभम जाटव (ब्लैक टी-शर्ट में )
बाणगंगा चौराहा... आंधी में यहां स्थित एक अवैध गंेट्री गिर गई। नगर निगम के टेंडर में इसका जिक्र नहीं है।बाणगंगा चौराहा... आंधी में यहां स्थित एक अवैध गंेट्री गिर गई। नगर निगम के टेंडर में इसका जिक्र नहीं है।
पीसीसी दफ्तर...कार-बाइक क्षतिग्रस्त।पीसीसी दफ्तर...कार-बाइक क्षतिग्रस्त।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..