हत्या / एफबी पर ब्लॉक किया तो एकतरफा प्रेम में किया युवती के दोस्त का कत्ल

Dainik Bhaskar

Jan 11, 2019, 02:15 AM IST



पुलिस गिरफ्त में आरोपी राम पुलिस गिरफ्त में आरोपी राम
X
पुलिस गिरफ्त में आरोपी रामपुलिस गिरफ्त में आरोपी राम

  • दोस्त से मिलने आया तो पुलिस ने किया गिरफ्तार
  • छात्र को सरेराह चाकू मारकर इंदौर फरार हो गया था सरपंच का बेटा

भोपाल. प्रभात चौराहे पर चाकू मारकर बीए छात्र अजय दुबे का कत्ल करने वाले सरपंच के बिगड़ैल बेटे को अशोका गार्डन पुलिस ने चार दिन बाद गिरफ्तार कर लिया है। अजय का कसूर इतना था कि वह फेसबुक पर एक युवती का फ्रेंड था। उस युवती ने आरोपी को ब्लॉक कर दिया था। उसे गलतफहमी थी कि युवती ने अजय से दोस्ती के कारण उसे ब्लॉक किया है। इसलिए एक कॉमन फ्रेंड के जरिए बातचीत के लिए छात्र को बुलवाया और मार डाला। 

 

खुरई निवासी 21 वर्षीय अजय दुबे बीए की पढ़ाई के साथ-साथ सब इंस्पेक्टर परीक्षा की तैयारी कर रहा था। वह बीमाकुंज में दोस्त यश मिश्रा के साथ रहता था। यश की दोस्ती खुरई निवासी रितेश उर्फ राम ठाकुर से भी है। एसआई अनूप उइके के मुताबिक छह जनवरी की रात साढ़े नौ बजे राम ने यश के जरिए अजय को बातचीत के लिए प्रभात चौराहा पर बुलाया था।

 

पुरानी बात भुलाकर यश ने राम को अजय से हाथ मिलाने के लिए कहा। अजय ने जैसे ही दोस्ती का हाथ बढ़ाया, तभी राम ने जेब से चाकू निकालकर अजय के गले पर वार कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। बुधवार को पता चला कि राम आईएसबीटी पर एक दोस्त से मिलने के लिए आया है। तभी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। 

 

युवती से भी किए थे अजय काे लेकर कई सवाल :
आरोपी ने बताया कि फेसबुक पर उसे खुरई की एक युवती की प्रोफाइल नजर आई थी। फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी तो युवती ने एक्सेप्ट कर ली। फिर उल-जलूल मैसेज करने लगा तो युवती ने ब्लॉक कर दिया। उसे पता चला कि अजय से युवती की चैटिंग होती है। इस पर राम ने युवती को वाट्सएप पर मैसेज कर अजय के बारे में सवाल करने शुरू कर दिए। एक दोस्त से अजय का मोबाइल नंबर लिया और उससे भी युवती के बारे में सवाल करने लगा। इसके बाद अजय ने भी उसे ब्लॉक कर दिया। इसी बात से वह अजय से नाराज था।

 

ढाई घंटे में पहुंच गया इंदौर :
अजय को अस्पताल छोड़कर राम कार से इंदौर रवाना हो गया। इंदौर की दूरी उसने महज ढाई घंटे में तय की। पुलिस को उसकी लोकेशन इंदौर के राजेंद्र नगर में मिली थी। राम खुरई का बिगड़ैल किस्म का युवक है। लड़कियों से दोस्ती करना और किसी से भी बहस कर लेना उसका शगल है। वह भोपाल में रहकर क्लेट की तैयारी कर रहा था। उसकी मां खुरई के नरोदा गांव की सरपंच हैं।

COMMENT