भोपाल

--Advertisement--

प्रदेश १०८ एंबुलेंस ने बंद की सेवाएं, मरीजों की बढ़ी परेशानी

प्रदेश १०८ एंबुलेंस ने बंद की सेवाएं, मरीजों की बढ़ी परेशानी

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 01:35 PM IST
कर्मचारियों ने कहा, मांगें नही कर्मचारियों ने कहा, मांगें नही

भोपाल। राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के कई जिलों के 108 एम्बुलेंस कर्मचारी गुरुवार को हड़ताल पर चले गए हैं। एम्बुलेंस कर्मियों का आरोप है कि पिछले तीन माह से उनके मासिक वेतन में अनावश्यक रूप से कटौती की जा रही है। इनके हड़ताल पर जाने से अस्पताल लाए जाने वाले मरीजों को परेशानी उठानी पड़ेगी। हालांकि, मरीजों को अस्पताल लाने के सरकारी एम्बुलेंस सहित अन्य निजी एम्बुलेंस की सेवाएं ली जा रही हैं।


-भोपाल जिले के कर्मचारी जिला अस्पताल 1250 में एकत्र हो गए और जमकर नारेबाजी की।
-राजधानी के जेपी हॉस्पिटल में भी एम्बुलेंस कर्मचारी और पदाधिकारी पहुंचे और सरकार से मामले को सुलझाने की मांग की।
-नाराज कर्मचारियों का कहना है कि उनकी सैलरी काटी गई और फिर रिटर्न भी नहीं दिया गया। यही वजह रही कि आक्रोशित कर्मचारियों ने हड़ताल कर दी।
-संगठन के मीडिया प्रभारी असलम खान ने बताया कि कर्मचारियों को बिना बताए कई बार उनका वेतन काट गया है। ऐसा पिछले तीन महीने से हो रही है। इस कटौती पर कंपनी के अधिकारियों से बात करते हैं तो वह कोई ठीक जवाब नहीं दे रहे हैं।

मांगें नहीं मानी तो अनिश्चितकालीन हड़ताल

-एम्बुलेंस चलाने वाले ड्राइवरों ने बताया कि फरवरी माह के वेतन बिना बताए तीन हजार रुपए काट लिए गए. इससे पहले भी पूरी तनख्वाह नहीं दी गई थी।

-पहले भी इस संबंध में शिकायत की गई थी, जिसके बाद आश्वासन मिला था की पहले हुई कटौती का भुगतान इस माह कर दिया जाएगा। कंपनी की ओर से पिछली कटौती भी नहीं लौटाई गई और अब बिना बताए फिर से पैसे काट लिए गए।

-एम्बुलेंस संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि हमारी मांगों पर विचार नहीं किया गया तो अनिश्चितकाल के लिए हड़ताल पर चले जाएंगे।

X
कर्मचारियों ने कहा, मांगें नहीकर्मचारियों ने कहा, मांगें नही
Click to listen..