Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» Aarushi Children Celebrate A Day Before World Disability Day

जिंदगी तुझे सलाम में खुद को दिखाया पहाड़ों की सैर करते, दिव्यांगों दौड़े लंगड़ी रेस

जिंदगी तुझे सलाम में खुद को दिखाया पहाड़ों की सैर करते, दिव्यांगों दौड़े लंगड़ी रेस

Priti Sharma | Last Modified - Dec 02, 2017, 02:09 PM IST

भोपाल। जिंदगी तुझे सलाम कार्यक्रम अरुषि द्वारा आयोजित किया गया, जिसमें दिव्यांग बच्चों ने अपना दमखम दिखाया। इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय में पूरे दिन बच्चों ने विभिन्न गतिविधियों को एंजॉय किया।

-विश्व विकलांगता दिवस(3 दिसंबर)को मनाया जाता है। शनिवार को अरुषि संस्था द्वारा पूर्व आयोजन इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय में किया गया। जिंदगी तुझे सलाम कार्यक्रम में 50 दिव्यांग बच्चों ने भाग लिया। इन बच्चों को सपनों की दुनिया थीम पर ड्राइंग बनाने का टास्क दिया गया।

-इस प्रतियोगिता में ऑटिज्म, सेरेब्रल पाल्सी और फिजिकली चैलेंज्ड बच्चों ने अपने सपनों की दुनिया को दिखाया, जिसमें क्रिसमस पार्टी में खुद को एंजॉय करते हुए दिखाया। किसी ने पहाड़ों की सैर अपनी स्टिक के सहारे तो किसी ने बंजी जंपिंग करते हुए खुद को चित्रों में दिखाया। बच्चे बहुत सधे हुए हाथों से ड्राइंग तो नहीं बना पाते लेकिन उनकी भावनाएं चित्रों में बहुत अच्छे से झलक रही थीं। यही वजह रही कि उनसे एक्रेलिक या अॉयल की बजाए क्रेयोन्स कलर्स से ड्राइंग करवाई गई ताकि वे बेहतर ढंग से कलरिंग पाएं।

पिन द टारगेट रेस...
बच्चों को किसी टारगेट पर सामान रखकर आने का टास्क देने वाली पिन द टारगेट रेस का आयोजन किया गया। इसके अलावा व्हील चेयर रेस और लंगड़ी रेस भी हुई। बच्चों ने रेस पूरी करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। कोई बीच में लडख़ड़ाना तो कोई गिरा लेकिन फिर वापस जोश में खड़ा होकर साथियों के चीयर-अप करने पर दौड़ने लगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: jindgai tujhe slaam mein khud ko dikhaayaa phaaड़on ki sair karte, divyaanga dauड़e lngaड़i res
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×