--Advertisement--

पुलिस और स्कूल प्रबंधन ने इतना किया प्रताड़ित कि अब हम जीना नहीं चाहते

पुलिस और स्कूल प्रबंधन ने इतना किया प्रताड़ित कि अब हम जीना नहीं चाहते

Danik Bhaskar | Dec 19, 2017, 06:04 PM IST
स्कूल प्रबंधन पर बच्ची को प्रत स्कूल प्रबंधन पर बच्ची को प्रत

भोपाल। पुलिस और स्कूल प्रबंधन से इतना ज्यादा तंग आ चुके हैं कि वे अब जीना नहीं चाहते। उन्हें इच्छा मृत्यु की अनुमति दी जाए। ऐसा एक पत्र बाड़ी के बस स्टैंड निवासी अर्चना जैन पत्नी चंद्र प्रकाश जैन ने एडीएम मुकेश कुमार जैन को दिया है। यह सनसनीखेज मामला रायसेन में सामने आया है। परिवार समेत कलेक्टोरेट पहुंचे चंद्रप्रकाश जैन के मामले में प्रशासन ने जांच शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि मेरी वजह से मेरे परिवार और स्कूल में बच्चों को प्रताड़ित किया जा रहा है। इसलिए हमें परिवार सहित सुसाइड की इजाजत दी जाए।

- बाड़ी निवासी अर्चना जैन अपनी पुत्री प्रेक्षा जैन और पुत्र पुष्कर व पति चंद्र प्रकाश जैन के साथ जिला मुख्यालय पर आए थे।

- यहां पर इस परिवार ने एडीएम मुकेश जैन के समक्ष पहुंचकर बाड़ी के एमपी कान्वेंट स्कूल प्रबंधन द्वारा उनके बच्चों को बिना वजह परेशान करने की शिकायत की।

- इसके साथ ही कहा कि वे स्कूल और पुलिस की प्रताड़ना से इतना ज्यादा परेशान हो गए हैं कि वे सामूहिक रूप से अपना जीवन समाप्त करना चाहते हैं।

- इस परिवार की पीड़ा सुनने के बाद एडीएम श्री जैन ने उन्हें न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया।

परेशान परिवार ने इच्छा मृत्यु की गुहार लगाई
- दोनों बच्चों की जुलाई से फीस जमा नहीं की गई है। परिजनों को बुलाकर लाने के लिए कहा था, लेकिन बच्चों के पिता ने स्कूल में आकर स्टाॅफ के साथ अभद्र व्यवहार किया। इसकी शिकायत थाने में की गई है। -महेंद्र दुबे, स्कूल संचालक


इसलिए मजबूर हैं वह आत्महत्या के लिए
चंद्र प्रकाश के बच्चे बाड़ी में जिस स्कूल में पड़ते हैं स्कूल प्रबंधन उन्हें लगातार इसी बात से प्रताड़ित करता है और स्कूल से नाम कटाने के लिये बार बार कहा जाता है।

- स्कूल प्रबंधन से परेशान होकर चंद्रप्रकाश अब पूरे परिवार के साथ आत्महत्या करने को भी मजबूर हो रहा है।

- परिजनों के अनुसार वो लगातार पुलिस से भी परेशान रहते हैं और अब स्कूल प्रबंधन इतना परेशान कर रहा है कि वो सपरिवार सामूहिक रुप से आत्महत्या का विचार बना रहे हैं.