Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» Allow Us To Die, Now We Do Not Want To Live

पुलिस और स्कूल प्रबंधन ने इतना किया प्रताड़ित कि अब हम जीना नहीं चाहते

पुलिस और स्कूल प्रबंधन ने इतना किया प्रताड़ित कि अब हम जीना नहीं चाहते

Sumit Pandey | Last Modified - Dec 19, 2017, 06:04 PM IST

भोपाल। पुलिस और स्कूल प्रबंधन से इतना ज्यादा तंग आ चुके हैं कि वे अब जीना नहीं चाहते। उन्हें इच्छा मृत्यु की अनुमति दी जाए। ऐसा एक पत्र बाड़ी के बस स्टैंड निवासी अर्चना जैन पत्नी चंद्र प्रकाश जैन ने एडीएम मुकेश कुमार जैन को दिया है। यह सनसनीखेज मामला रायसेन में सामने आया है। परिवार समेत कलेक्टोरेट पहुंचे चंद्रप्रकाश जैन के मामले में प्रशासन ने जांच शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि मेरी वजह से मेरे परिवार और स्कूल में बच्चों को प्रताड़ित किया जा रहा है। इसलिए हमें परिवार सहित सुसाइड की इजाजत दी जाए।

- बाड़ी निवासी अर्चना जैन अपनी पुत्री प्रेक्षा जैन और पुत्र पुष्कर व पति चंद्र प्रकाश जैन के साथ जिला मुख्यालय पर आए थे।

- यहां पर इस परिवार ने एडीएम मुकेश जैन के समक्ष पहुंचकर बाड़ी के एमपी कान्वेंट स्कूल प्रबंधन द्वारा उनके बच्चों को बिना वजह परेशान करने की शिकायत की।

- इसके साथ ही कहा कि वे स्कूल और पुलिस की प्रताड़ना से इतना ज्यादा परेशान हो गए हैं कि वे सामूहिक रूप से अपना जीवन समाप्त करना चाहते हैं।

- इस परिवार की पीड़ा सुनने के बाद एडीएम श्री जैन ने उन्हें न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया।

परेशान परिवार ने इच्छा मृत्यु की गुहार लगाई
- दोनों बच्चों की जुलाई से फीस जमा नहीं की गई है। परिजनों को बुलाकर लाने के लिए कहा था, लेकिन बच्चों के पिता ने स्कूल में आकर स्टाॅफ के साथ अभद्र व्यवहार किया। इसकी शिकायत थाने में की गई है। -महेंद्र दुबे, स्कूल संचालक


इसलिए मजबूर हैं वह आत्महत्या के लिए
चंद्र प्रकाश के बच्चे बाड़ी में जिस स्कूल में पड़ते हैं स्कूल प्रबंधन उन्हें लगातार इसी बात से प्रताड़ित करता है और स्कूल से नाम कटाने के लिये बार बार कहा जाता है।

- स्कूल प्रबंधन से परेशान होकर चंद्रप्रकाश अब पूरे परिवार के साथ आत्महत्या करने को भी मजबूर हो रहा है।

- परिजनों के अनुसार वो लगातार पुलिस से भी परेशान रहते हैं और अब स्कूल प्रबंधन इतना परेशान कर रहा है कि वो सपरिवार सामूहिक रुप से आत्महत्या का विचार बना रहे हैं.

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: is family ne maangi suicide ki parmishn, bole- tnga aa gae, ab nahi jinaa
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×