--Advertisement--

भोपाल

भोपाल

Dainik Bhaskar

Jan 20, 2018, 05:39 PM IST
गुना जिले में एक प्रेमी जोड़ा गुना जिले में एक प्रेमी जोड़ा

भोपाल। इस शादी में न पंडित बुलाया गया और न ही फेरे लिए गए। प्रेमी ने मंदिर के सामने प्रेमिका की मांग में सिंदूर भरा। दो मालाएं मंगाई और एक-दूसरे के गले में पहना दी। इसके साथ ही दोनों ने सबके सामने एक-दूसरे को पति-पत्नी मान लिया। ये वाकया सोमवार को गुना जिले में सामने आया। जिसकी चर्चा हर किसी की जुबान पर है।

- प्रेम जात-पांत और उम्र नहीं देखता है। प्रेमी जोड़े ने एक-दूसरे को सबके सामने चुन लिया।

-सालभर से एक-दूसरे के संपर्क में रह रहे प्रेमी जोड़े ने शादी करने का निर्णय लिया। वह सोमवार कोर्ट गए।

-लेकिन वहां की औपचारिकताओं से परेशान होकर बाहर निकल आए और मंदिर के सामने प्रेमी ने प्रेमिका की मांग में सिंदूर भर दिया।

-हैरान करने वाली बात ये है कि उस समय मंदिर के गेट में ताला लगा हुआ था। प्रेमी ने कहा कि हमारी शादी के गवाह मंदिर और कोर्ट दोनों हैं।

-हमने इनके बीच खडे होकर इन्हें साक्षी मानकर ही एक-दूसरे को चुना है। प्रेमी के पहली पत्नी से चार बच्चे हैं।

प्रेमी के चार बच्चे, प्रेमिका ने परवरिश की कसम खाई
बिजली कंपनी के कर्मचारी 35 वर्षीय राजेंद्र सिंह ने गुना निवासी 42 वर्षीय राजकुमारी के साथ 1 साल से संपर्क में था, राजेंद्र सिंह की पत्नी का निधन 1 जून 2013 को हो गया था। जबकि राजकुमारी के पति का निधन को 2005 में हो गया था। उसके कोई बच्चा है। पत्नी बनीं प्रेमिका ने पति से चारों बच्चों को अपने बच्चों जैसा ही पालने की कसमें खाई हैं।

प्रेमी के दो बच्चे भी बने गवाह
-प्रेमी राजेंद्र सिंह के दो बच्चे भी इस विवाह के गवाह बने। अपने पिता के साथ वह भी इस मौके पर काफी खुश थे। इसे देखने के लिए कोर्ट के बाहर काफी भीड़ जमा हो गई।

X
गुना जिले में एक प्रेमी जोड़ा गुना जिले में एक प्रेमी जोड़ा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..