--Advertisement--

ब्लैकमेलिंग से परेशान इंजीनियरिंग की छात्रा ट्रेन के सामने कूदी, मौत

ब्लैकमेलिंग से परेशान इंजीनियरिंग की छात्रा ट्रेन के सामने कूदी, मौत

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 06:14 PM IST
ब्लैकमेलिंग से परेशान इंजीनि ब्लैकमेलिंग से परेशान इंजीनि

भोपाल। बैतूल जिले में इंजीनियरिंग की छात्रा ने की ब्लैकमेलिंग से तंग आकर ट्रेन के सामने कूद कर आत्महत्या कर ली। मरने से पहले उसने अपनी दोस्त को मैसेज कर जिंदगी से हताश होने की बात कही थी। परिजनों ने रातभर ढूंढा। गुरुवार की सुबह उसका शव रेल ट्रैक पर क्षत-विक्षत हालत में मिला।

सहेली को किया था मैसेज, अब नहीं जीना चाहती
-परिजनों ने छात्रा के क्लासमेट पर ब्लैकमेलिंग और प्रताड़ना का आरोप लगाया है। बताया जा रहा है कि छात्रा महिमा बालाजी इंजीनियरिंग कालेज में बीई की छात्रा थी।

-पढ़ाई में होनहार महिमा बच्चों को ट्यूशन पढ़ाकर अपना खर्चा उठाती थी। कल देर रात उसने अपनी सहेली को मैसेज भेजा कि वह जीना नहीं चाहती। इस मैसेज के मिलने की जानकारी सहेली ने उसके परिजनों को दे दी।
-जिसके बाद रात करीब 9 बजे से परिजन उसकी तलाश करते रहे। बताया जा रहा है कि देर रात बेटी का पता नहीं चला। इसके बाद सुबह रेलवे ट्रैक पर छात्रा की डेड बॉडी क्षत-विक्षत हालात में मिली।
-परिजनों का आरोप है कि महिमा को बहुत दिनों से उसके साथ पढ़ने वाला एक छात्र (श्रेयांस) तंग कर रहा था। वह उसके फोटो घर वालों को बताने और उसके घर आने की धमकी देता रहता था। जिससे छात्रा बहुत डरी हुई थी, वह ब्लैकमेल हो रही थी।

-पुलिस को महिमा परिहार के फोन में श्रेयांश नामक लड़के के कुछ संदिग्ध मैसेज मिले, जिसमें छात्रा उससे परेशान नहीं करने की मिन्नतें कर रही है।
-महिमा के एक रिश्तेदार ने उस लड़कों को भी समझाईश दी थी। बताया तो यहां तक जा रहा है कि कॉलेज में भी इस विषय को लेकर विवाद हो चुका था। जिसकी प्रबंधन को भी जानकारी थी। परिजन अब उक्त छात्र के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे है।
-जीआरपी चौकी प्रभारी शेख मकसूद खान ने बताया ने रेलवे पटरी पर महिमा परिहार 19 वर्ष का शव मिला हैं। परिजनों ने एक युवक पर महिमा को परेशान करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

X
ब्लैकमेलिंग से परेशान इंजीनिब्लैकमेलिंग से परेशान इंजीनि
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..