--Advertisement--

पुलिस की अनोखी कला शिवराज के सामने एसपी बने बाहुबली

पुलिस की अनोखी कला शिवराज के सामने एसपी बने बाहुबली

Danik Bhaskar | Jan 20, 2018, 05:39 PM IST
उज्जैन के एसपी ने मंच पर बाहुब उज्जैन के एसपी ने मंच पर बाहुब

भोपाल। राजधानी के पुलिस ऑफिसर्स मेस में हुई आईपीएस सर्विस मीट 2018 में भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर और इंदौर जोन में पदस्थ आईपीएस और उनकी फैमिली ने रॉकिंग डांस और शानदार ड्रामा की शानदार प्रस्तुति दी है। इसे देखकर हर कोई अचंभित था। उज्जैन के एसपी सचिन अतुलकर ने बाहुबली की स्टाइल में शिवलिंग उठाकर चले तो देखने वाले अचंभित रह गए। मालवा क्षेत्र के इंदौर-उज्जैन संभाग के आईपीएस अधिकारियों ने बाहुबली फिल्म के गाने पर मंत्रमुग्ध कर देने वाली प्रस्तुति दी।

-दिनभर मुजरिमों की धरपकड़ में परेशान रहने वाली पुलिस मंच पर कुछ इस तरह प्रस्तुति दे रही थी मानो यह पुलिस के अधिकारी नहीं बल्कि रंगमंच के प्रोफेशनल कलाकार हो।

-दफ्तर में अधीनस्थों को अपनी शक्ति और कड़क मिजाज से टाइट रखने वाले आईपीएस अधिकारी और उनके परिजन जब डांस फ्लोर पर संगीत की धुनों पर थिरके।

- और मंच पर अपने नाटकीय अदाओं से अभिनय कला दिखाई तो सभी ने इनका लोहा माना। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंखला में पुलिस अधिकारियों ने अपने परिवार के साथ शामिल हुए।

-जहां एक और रेप पर कैटवॉक कर सभी का दिल जीत लिया, तो वहीं नाट्य प्रस्तुति से लोगों को एकता का संदेश दिया।
-इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी विशेष रुप से उपस्थित रहे। मुख्यमंत्री आए तो थे कुछ देर शामिल होने के लिए लेकिन प्रस्तुतियां इतनी मनमोहक थी।

सीएम शिवराज पत्नी साधना सिंह के साथ पहुंचे

-मुख्यमंत्री और उनकी पत्नी साधना सिंह देर रात तक प्रस्तुति देखते रहे। आईपीएस मीट में मध्य प्रदेश भर के पुलिस अधिकारियों की टीमों को प्रदर्शन के लिए अलग-अलग जोन में बांटकर यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी।

-कानूनी धाराओं के पेच में उलझे रहने वाले आईपीएस अधिकारियों की मीट दो दिन चली। दूसरे दिन आनंद उत्सव के रूप में मनाया गया।

इसके पहले शुक्रवार को रंगारंग प्रस्तुतियां

-देर रात तक चली इस रंगारंग प्रस्तुतियों का सभी ने लुफ्त उठाया। आईपीएस मीट में डांस गाना और नाटक के अलावा खेलकूद और मस्ती में सराबोर रहकर पुलिस अधिकारी खुद को तनाव से मुक्त किया।

-इस आईपीएस मीट में अधिकारियों का छोटे बड़े का रुतबा भी देखने को नहीं मिला। सभी समान रूप से एक ही मंच पर अपनी प्रतिभा को प्रस्तुत कर रहे थे।

नारी के रूपों को दर्शाती प्रस्तुति

-भोपाल संभाग में प्राचीन गंगा जमुनी तहजीब को अलग ही हास्य व्यंग के साथ पेश किया। जबलपुर संभाग में नारी के रूपों को दर्शाते हुए संगीतमय प्रस्तुति पेश की। साथ ही उन्होंने ''मिले सुर मेरा तुम्हारा'' गाने पर सभी को एकता बनाए रखने का संदेश दिया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कार्यक्रम के अंत में सांस्कृतिक कार्यक्रमों में सर्वोच्च प्रस्तुति के लिए पुरस्कार से सम्मानित भी किया।