भोपाल

--Advertisement--

अायुषी ने दिए जवाब, बन गईं डिप्टी कलेक्टर

अायुषी ने दिए जवाब, बन गईं डिप्टी कलेक्टर

Dainik Bhaskar

Dec 25, 2017, 07:06 PM IST
Dakshi Collector became the daughter of Pan shop runner

भोपाल। मंडला जिले के एक मामूली से पान की दुकान चलाने वाले शख्स की बेटी ने एमपी पीएससी की परीक्षा में टाप टेन में जगह बनाकर मिसाल कायम की है। डिप्टी कलेक्टर बनी आयुषी जैन के पिता चौथी तक पढ़े हैं और आज भी मंडला में पान की दुकान का संचालन करते हैं। सरकारी स्कूल में पढ़ी आयुषी जैन ने विपरीत परिस्थितियों के बावजूद आयुषी जैन ने संघर्ष नहीं छोड़ा और डिप्टी कलेक्टर जैसे प्रतिष्ठित पद के लिए चुनी गईं।

- इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाली आयुषी का फर्स्ट अटेम्प्ट में सेल्स टैक्स ऑफिसर बनीं थीं, इसके बावजूद उसने हार नहीं मानी। क्योंकि उन्हें डिप्टी कलेक्टर बनना था।

3 सदस्यीय पैनल ने पूछे सवाल MPPSC के चेयरमैन बिपिन ब्योहार समेत तीन सदस्यीय इंटरव्यू पैनल ने उनका 20 मिनट तक इंटरव्यू लिया। इसमें मध्य प्रदेश में बाघों की स्थिति, और डिप्टी कलेक्टर बनने के बाद मंडला में आदिवासियों का जीवन में क्या बदलाव लाना चाहेंगी। आयुषी ने इन सवालों के बखूबी जवाब भी दिए। वह किसी सवाल पर अटकीं नहीं। इंटरव्यू देकर निकलीं आयुषी को सेलेक्ट होने की पूरी उम्मीद थी। - DainikBhaskar.com ने आयुषी जैन से खास बातचीत की। उन्हाेंने इंटरव्यू में पूछे गए सवाल और उसके जवाबों की जानकारी दी।

X
Dakshi Collector became the daughter of Pan shop runner
Click to listen..