--Advertisement--

वरमाला के लिये बहन को गोद में लेकर पहुंचे भाई/बहन..

वरमाला के लिये बहन को गोद में लेकर पहुंचे भाई/बहन..

Danik Bhaskar | Mar 06, 2018, 11:00 AM IST
मध्य प्रदेश के छतरपुर में एक अ मध्य प्रदेश के छतरपुर में एक अ

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक अनोखी शादी का मामला सामने आया है, जहां एक युवा ने दिव्यांग लड़की से शादी कर उसे अपनी दुल्हन बनाया है। इतना ही नहीं उस लड़के ने वरमाला के समय स्टेज में कुर्सी पर बैठा और फिर मंडप के नीचे दुल्हन को गोद में लेकर पवित्र अग्नि के सात फेरे लिये। सैकड़ों लोग इस अनूठी शादी के गवाह बने।

अनूठी शादी के सैकड़ों लोग गवाह बने

- मामला प्रदेश के छतरपुर का है, हीरालाल राठौर के बेटी रचना राठौर (जो छतरपुर तहसील में पटवारी के पद पर पदस्थ हैं) की शादी मोहन राठौर से तय हुई। सोमवार की रात दोनों का पूरे रीति-रिवाज के साथ विवाह कराया गया।इस अनूठी शादी के सैकड़ों लोग गवाह बने। पेशे से बिजनेस करने वाले मोहन राठौर ने दिव्यांग लड़की से शादी करके क्षेत्र में एक अनोखी मिसाल कायम की है।
- दरअसल दूल्हा-दुल्हन दोनों की जोड़ी अनोखी है। 10 माह की उम्र में पोलियो से ग्रस्त दुल्हन रचना पैरों से दिव्यांग हैं, वहीं, दूल्हा मोहन एकदम सामान्य है, उसे किसी तरह की परेशानी नहीं है। सोमवार की देर शाम दूल्हा मोहन बरात लेकर दुल्हन के यहां पहुंचा।

भाई-बहन दुल्हन को गोद में उठाकर लाए स्टेज

-वरमाला का समय आया तो दिव्यांग दुल्हन को उसके भाई-बहन गोद में उठाकर स्टेज लेकर आये, फिर दुल्हन के लिए कुर्सी लगाई गई। दूल्हा भी कुर्सी लगाकर बैठा और उसने दुल्हन को वरमाला पहनाई।

-जब सात फेरों का समय आया तो दूल्हे ने अपनी दिव्यांग दुल्हन को गोद में उठाकर पवित्र अग्नि के सात फेरे लिए और सात वचन निभाने का वादा किया। दूल्हे की गोद में सात फेरे ले रही दुल्हन की आंख से खुशी के आंसू छलक उठे तो यह नजारा देख मौजूद लोग भावविभोर हो गए।

बहन की ऐसी शादी की उम्मीद नहीं थी...
-दुल्हन की बहन रीना राठौर महिला हॉकी प्लेयर हैं और रेलवे में जॉब करती हैं। उसके साथ हॉकी प्लेयर सहेलियां भी इस अद्भुत नजारे की साक्षी बनीं। सहलियों ने कहा कि ऐसी शादी उन्होंने अपने जीवन में पहली बार देखी है। हम बेहद खुशी है। दुल्हन की बहन रीना ने कहा कि बहन को फेरे लेने के लिये असहाय नहीं होना पड़ा, उसके जीवनसाथी ने गोद में लेकर फेरे लगाए। मैं अपनी बहन की ऐसी शादी से बेहद खुश हूं। मुझे बहन की ऐसी शादी की उम्मीद नहीं थी।