• Home
  • Mp
  • Bhopal
  • Dumpar crushes bike riders, killing a woman, including siblings
--Advertisement--

डंपर ने बाइक सवारों को रौंदा, भाई-बहिन सहित एक महिला की मौत

डंपर ने बाइक सवारों को रौंदा, भाई-बहिन सहित एक महिला की मौत

Danik Bhaskar | Jan 25, 2018, 08:41 PM IST
बाद में पहुंचे लोगों ने लाशों बाद में पहुंचे लोगों ने लाशों

भोपाल। रायसेन जिले के रेहली गांव के पास मोड़ पर तेज रफ्तार से आ रहे एक अज्ञात डंपर ने बाइक सवारों को रौंद दिया। इस दर्दनाक हादसे में भाई-बहन सहित एक अन्य महिला की मौके पर ही मौत हो गई। मरने वाले दूसरी महिला भी उनकी रिश्तेदार है। जिस जगह पर यह हादसा हुआ है, वहां पर 90 डिग्री का अंधा मोड़ है, इस कारण सामने से आ रहे वाहन नहीं दिखाई देते। बाद में पहुंचे लोगों को तीनों डेड बॉडी समेटनी पड़ीं।

-बौरास निवासी 25 वर्षीय जयहिंद सिंह राजपूत पुत्र निरपत सिंह राजपूत अपनी बड़ी बहन 38 वर्षीय कलादेवी पत्नी हक्कू राजपूत और रिश्तेदार 40 वर्षीय रामदेवी पत्नी रामेश्वर राजपूत निवासी सांईखेड़ा को बौरास से नई बाइक पर बैठाकर छींद केवलारी लेकर जा रहा था।

-रेहली के पास अंधे मोड़ पर उदयपुरा से बौरास की तरफ आ रहे तेज रफ्तार डंपर ने उनकी बाइक को अपनी चपेट में लिया। डंपर के पहिए इनके ऊपर से निकल गए।

-हादसा इतना भीषण था कि तीनों के शव बुरी तरह से क्षत-विक्षत हो गए। जानकारी मिलते की उदयपुरा थाना प्रभारी मनोज दुबे पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। सड़क से शवों को उठवा कर पीएम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया।

गमी होने पर केवलारी जा रहे मृतक
-मृतक जयहिंद और उसकी बहन और मौसी की लड़की रिश्तेदार रामेती बाई के बेटे के निधन के बाद वहां पर सांत्वना देने जाने के लिए गांव से निकले थे।

-छींद केवलारी पहुंचने से पहले ही उनकी बाइक को एक तेज रफ्तार से डंपर ने अपनी चपेट में लेकर उन्हें कुचल दिया। इससे तीनों की मौके पर ही मौत हो गई।
घटना के बाद फरार हो गया डंपर
-रेहली के पास तीन लोगों को कुचलने के बाद डंपर चालक वहां से भाग गया। पुलिस उक्त डंपर के बारे में पता लगाने का प्रयास कर रही है।
-बौरास निवासी रामगोपाल सिमरिया ने बताया कि रेहली के पास 90 डिग्री का अंधा मोड़ है। यहां पर सामने से आने वाले वाहन नहीं दिखते है।

-इस कारण आए दिन यहां पर सड़क हादसे होते है। यह हादसा भी इसी कारण से हुआ है। अंधा मोड़ होने के बाद भी वाहन चालक यहां पर अपने वाहन धीमे नहीं करते, जिससे वाहन आमने सामने आने के बाद टकरा जाते है।