--Advertisement--

देवर से थे भाभी के संबंध, रंगे हाथों पकड़े गए दोनों, फिर पति ने लिया ये स्टेप

देवर से थे भाभी के संबंध, रंगे हाथों पकड़े गए दोनों, फिर पति ने लिया ये स्टेप

Dainik Bhaskar

Dec 15, 2017, 12:36 PM IST
पत्नी को जलाने के बाद पुलिस के पत्नी को जलाने के बाद पुलिस के

भोपाल। छतरपुर जिले के नौगांव थाने में मुड़वारा मौजा स्थित गुरइया हार में महिला को जलाकर मार डालने के सनसनीखेज मामले का पुलिस ने चौथे दिन खुलासा कर दिया। महिला की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसके पति ने ही की थी।

- यह हत्या प्रेमप्रसंग के चलते की गई है, आरोपी पति ने पहले पत्नी से मारपीट कर गला दबाकर मार डाला, इसके बाद उसके ही आशिक के सामने आग के हवाले कर दिया। पुलिस ने पति को हत्या करने पत्नी के आशिक को साक्ष्य छुपाने में सहयोग करने पर मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

- पुलिस ने बताया कि मुड़वारा निवासी रामकिशोर कुशवाहा अपने परिवार के साथ मुड़वारा मौजा के गुरईया मंदिर के पास अपने खेत पर मकान बनाकर रहता है। वह काम के सिलसिले में अकसर गुजरात एवं अन्य प्रांतों में रहता है। घर पर उसकी 32 साल की पत्नी ललिता दो बच्चे रहते थे।

ऐसे पक्का हुआ पति का शक

- इस बीच उसकी पत्नी ललिता का रामकिशोर के नौगुवां निवासी मौसेरे भाई रामसिंह से प्यार हो गया, रामकिशोर की गैर मौजूदगी में दोनों का मिलन होता रहा। इसकी भनक रामकिशोर को लग गई, लेकिन पुष्टि करने के लिए उसने सोमवार 11 दिसंबर की शाम अपने मौसेरे भाई पत्नी के आशिक रामसिंह को शराब मुर्गा पार्टी के लिए बुलाया।


लौटा तो प्रेमी के साथ पत्नी को हम बिस्तर पाया
- दोनों ने रामकिशोर के घर पर मुर्गा बनाकर खाया और शराब पी। बच्चों के सो जाने के बाद रामिकशोर ने राम सिंह ने किसी काम से गांव मुड़वारा जाने के लिए उसकी मोटर साइकिल मांगी, वह उसकी मोटर साइकिल लेकर वहां से चला गया। घर पर उसकी पत्नी ललिता रामसिंह अकेले थे। रामकिशोर कुछ ही देर बाद लौट आया और मोटर साइकिल कहीं दूर छिपा कर दबे पांव घर पहुंचा तो देखा कि दरवाजे अंदर से बंद थे। उसने दस्तक दी लेकिन काफी देर बाद दरवाजा खुला तो रामसिंह ललिता को हम बिस्तर पाया।


- प्रेमी राम सिंह ने पुलिस को बताया कि वह बाहर खड़ा सुनता रहा, कुछ देर बाद अंदर से आवाज आना बंद हो गई। इस पर जब रामसिंह ने दरवाजा भड़भड़ाया तो रामकिशोर ने खोलते हुए कहा मैंने तुम्हारी माशूका को गला दबाकर मार डाला।


शव को लकड़ी के ढेर पर रखकर आग लगा दी
- रामकिशोर ने पत्नी ललिता का शव खेत पर ही पड़ी लकड़ी के ढेर पर ले जाकर डीजल छिड़क कर आग लगा दी। रामसिंह भी वहां मौजूद रहा। ललिता के जल जाने के बाद रामकिशोर अंदर जाकर सो गया और रामसिंह भी अपने गांव चला गया।

X
पत्नी को जलाने के बाद पुलिस के पत्नी को जलाने के बाद पुलिस के
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..