Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News »News» Eat The Punching Punch And Keep The Sandal On The Head

पंचों का जूठा खाकर, सिर पर चप्पल रख लगाओ गांव के चक्कर, प्रेमी जोड़े को मिली ये सजा

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 08, 2018, 10:49 AM IST

श्योपुर शहर से सटे सलापुरा गांव की आदिवासी पंचायत का अजीब फैसला।
  • पंचों का जूठा खाकर, सिर पर चप्पल रख लगाओ गांव के चक्कर, प्रेमी जोड़े को मिली ये सजा
    +1और स्लाइड देखें
    श्योपुर में परिवार ने पंचायत के खिलाफ जाकर पुलिस से शिकायत की है।

    भोपाल।मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में एक युवती के दूसरे समाज के युवक से प्रेम विवाह करने पर आदिवासी समाज की पंचायत ने ऐसा फरमान सुनाया है कि सुनने वाले हैरान रह गए। पंचायत ने न केवल लड़की के परिवार को समाज से बेदखल कर दिया, बल्कि उसके परिवार को भी समाज में तभी वापस लेने की बात कही है, जब उनकी बेटी और दामाद पंचों की जूठन खाएंगे, साथ ही चप्पलों को सिर पर रखकर पूरे गांव के चक्कर लगाएंगे।

    ये है पूरा मामला...

    -हैरान कर देने वाला मामला श्योपुर जिला मुख्यालय से सटे सलापुरा आदिवासी बस्ती का है। यहां रहने वाले एक परिवार की बेटी ने ससुराल पक्ष से बेदखल करने के बाद एक अन्य युवक से कोर्ट मैरिज कर ली।

    -आदिवासी पंचायत को एक बेटी का अपनी उजड़ी जिंदगी दोबारा बसाने का फैसला नागवार गुजरा कि उन्होंने समाज की बकायदा पंचायत बुला ली। इसमें लड़की के साथ उसके पूरे परिवार को समाज से बेदखल करने का फरमान सुना दिया।

    -परिवार ने फैसला बदलने की गुहार लगाई तो पंचायत ने भारी भरकम जुर्माना लगाने के अलावा बेटी और दामाद को पंचों का जूठन खाने और चप्पल सिर पर रखकर पूरे गांव का चक्कर लगाने का फरमान सुना दिया है.
    थाने पहुंचा पीडि़त परिवार
    -परिवार का आरोप है कि इस मामले में पुलिस को भी शिकायत की गई, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। इसके बाद परिवार एसपी के पास शिकायत लेकर पहुंचा तो पुलिस महकमा हरकत में आया। पंचायत के सदस्य अब भी अपनी बात पर कायम है। उनका कहना है कि दूसरे समाज में शादी करने वाले या शराब बेचने वालो को समाज से बहिष्कृत किया जाएगा।

    साथ ही पंचों की झूठन और सिर पर चप्पल रखकर गांव का चक्कर लगाएंगी। महिला ने बताया कि कुछ साल पहले दूसरे समाज के पुरुष के साथ रहे तो समाज से बहिष्कृत कर दिया गया था।
    चार दिन पहले हुई पंचायत में लिया था फैसला
    -सलापुरा गांव में चार दिन पहले आदिवासी समाज की पंचायत हुई। इसमें समाज ने शराबबंदी का निर्णय लिया और शराब पीने वाले पर जुर्माना लगाना तय किया।

    -यह भी तय किया कि समाज से बहिष्कृत महिलाओं की वापसी हो सकती है। ऐसी महिलाओं को 10 हजार रुपए का जुर्माना चुकाना होगा।

    -साथ ही जुर्माने के साथ दंड के तौर पर पंचों की झूठन खाने और गांव में सिर पर चप्पल रखकर चक्कर लगाने की सजा दी जााएगी।

  • पंचों का जूठा खाकर, सिर पर चप्पल रख लगाओ गांव के चक्कर, प्रेमी जोड़े को मिली ये सजा
    +1और स्लाइड देखें
    प्रेमी जोड़ा। -फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Eat The Punching Punch And Keep The Sandal On The Head
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×