Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Farhan Qureshi Of The City Won The Title Of Mr. India Universe -2018

चाय की दुकान पर करता था 4 घंटे ड्यूटी, पहले ही अटैम्प्ट में फरहान बना मिस्टर इंडिया

भोपाल के फरहान कुरैशी ने जीता गोआ में आयोजित कॉन्टेस्ट में मिस्टर इंडिया यूनिवर्स इंडिया-2018।

रश्मि प्रजापति | Last Modified - Mar 14, 2018, 12:34 PM IST

  • चाय की दुकान पर करता था 4 घंटे ड्यूटी, पहले ही अटैम्प्ट में फरहान बना मिस्टर इंडिया
    +3और स्लाइड देखें
    भोपाल के फरहान कुरैशी ने मुंबई में जीता मिस्टर इंडिया इंटरनेशनल का खिताब।

    भोपाल.राजधानी भोपाल के फरहान कुरैशी ने गोवा में मिस्टर इंडिया यूनिव -2018 का खिताब जीत लिया। उन्होंने रूबरू मिस्टर इंडिया यूनिवर्स कॉम्पिटीशन में पार्टिसिपेट किया था। इसके साथ ही फरहान मिस्टर इंडिया इंटरनेशनल के लिए चुने गए हैं। अब वह इस प्रतिष्ठित अंतर्राष्ट्रीय स्तर की कॉम्पिटिशन में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे। इस खिताब को जीतने के बाद फरहान सोमवार को भोपाल पहुंच गए हैं। जहां उनका दोस्तों और परिवार ने स्वागत किया। फरहान मंगलवार को अपने फैंस से रूबरू हुए।

    -भास्कर से खास बातचीत में फरहान ने कहा,"पापा हमेशा से मेरे मॉडलिंग के लिए जाने से नाराज थे, उनकी नाराजी के कारण ही पूरे दो साल मैंने 8 घंटे हमारी चाय की दुकान पर बिताने के बाद जिम, पर्सनालिटी डवलपमेंट और ओवरऑल ग्रोथ पर काम किया। सारी तैयारियां चल रही थीं, लेकिन कहीं न कहीं एक डर था कि, असफलता मिली, तो पापा की नाराजगी और बढ़ जाएगी।"

    पापा का फोन आया तो उत्साह दोगुना हो गया

    -फरहान कहते हैं, " उसरोज मिस्टर नेशनल के पेजेंट की प्रतियोगिता शुरू होने के महज एक घंटे पहले जब मेरे फोन पर पापा की कॉल आई और उन्होंने हर कदम पर मेरे साथ रहने का हौंसला दिया, तो तैयारियों में जो कसर थी, वो भी पूरी हो गई। मैंने अपने आंसू पोंछे और अब पापा भी मेरे साथ हैं यह सोच रैंप पर जा उतरा। कुछ राउंड्स और फिर पेजेंट्स का ऐलान। मैंने सबसे पहला कॉल पापा को ही लगाया।"

    13 साल की उम्र से शॉप पर बैठता था
    -फरहान कुरैशी के पिता फरीद कुरैशी की पुराने भोपाल में राजू टी स्टॉल के नाम से मशहूर दुकान है। फरहान अक्सर चाय की दुकान में बैठते थे। फरहान ने कहाकि वह कुछ बड़ा करना चाहते थे, इसलिए उन्होंने मप्र की किसी स्थानीय कॉम्पिटीशन में भाग नहीं लिया। फरहान ने बताया, मैं जब 10वीं क्लास में था, उस वक्त एनुअल फंक्शन में हिस्सा लेने के दौरान से मेरे मन में यह बात थी कि कभी न कभी मॉडलिंग करूंगा। लेकिन, न कभी मौका मिला और न ही मैंने इस ओर ध्यान दिया। 13 साल की उम्र से हर रोज पापा के साथ राजू टी-स्टॉल पर बैठता हूं। हम तीनों भाई वहां 8-8 घंटे बिताते हैं, ताकि पापा की मदद हो सके। इसी दौरान मुझे लगा कि, अभी उम्र है और मुझे कम से कम एक बार अपने उस ड्रीम के लिए प्रयास करना चाहिए। सफलता मिले या न मिले, लेकिन बाद में यह मलाल तो न हो कि कभी ट्राय ही नहीं किया।

    दो साल से जमकर तैयारी की
    -यही सोचकर मैंने इस पेजेंट के बारे में बहुत कुछ पढ़ा, ढेर सारी इन्फॉर्मेशन जुटाई और फिर अपनी पर्सनालिटी व बॉडी पर काम करना शुरू किया। जब मैंने पेजेंट के बारे में तैयारी शुरू की, उस समय मैं बड़ा चब्बी फिजिक का था, मेरा वजन भी तकरीबन 89 किलो के आस-पास होगा। 8 घंटे शॉप पर बिताने के बाद मैंने 4 से 5 घंटे अपनी ग्रूमिंग में बिताता और दो साल टफ डाइट रूटीन फॉलो करने के बाद मैं इस कॉम्पीटिशन में दाखिल हुआ। यह मेरा पहला अटैम्प्ट था, जिसमें मैं सफल रहा। अब अगली तैयार अगस्त के आस-पास थाईलैंड में होने वाले इंटरनेशनल कॉन्टेस्ट।

  • चाय की दुकान पर करता था 4 घंटे ड्यूटी, पहले ही अटैम्प्ट में फरहान बना मिस्टर इंडिया
    +3और स्लाइड देखें
    उनके पिता फरीद कुरैशी पुराने भोपाल में चाय की दुकान चलाते हैं।
  • चाय की दुकान पर करता था 4 घंटे ड्यूटी, पहले ही अटैम्प्ट में फरहान बना मिस्टर इंडिया
    +3और स्लाइड देखें
    खिताब जीतकर उन्होंने मप्र का नाम रोशन किया।
  • चाय की दुकान पर करता था 4 घंटे ड्यूटी, पहले ही अटैम्प्ट में फरहान बना मिस्टर इंडिया
    +3और स्लाइड देखें
    फरहान कुरैशी को बधाईयां देने वालों का तांता लगा।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Farhan Qureshi Of The City Won The Title Of Mr. India Universe -2018
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×