Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» Father Kills Son Daughter

पिता ने अपने ही बेटे और बेटी को मौत के घाट उतारा

पिता ने अपने ही बेटे और बेटी को मौत के घाट उतारा

Sumit Pandey | Last Modified - Feb 05, 2018, 11:49 AM IST

भोपाल।मध्य प्रदेश के कटनी जिले में दिल दहला देने वाली वारदात में एक पिता ने अपने ही बेटे और बेटी को मौत के घाट उतार दिया है। सोमवार को सुबह लगभग 5 बजे शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र में एक पिता ने अपने ही बेटे और बेटी को कुल्हाड़ी से बड़ी बेरहमी से काटकर हत्या कर दी। इसके बाद वह फरार हो गया। पुलिस के मुताबिक आरोपी ने अपने बेटी और बेटे का सुबह-सुबह कत्ल किया।

-इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई, इलाके में सुबह से ही भारी भीड़ जुट गई है। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

-पुलिस के अनुसार, आरोपी कागज में कुछ लिखकर गया है। पुलिस ने कागज जब्त किए है। उसमें क्या लिखा है इस पर अभी पुलिस कुछ भी नहीं बता पा रही है।

14 साल की बेटी और 12 साल का बेटा
-जानकारी के अनुसार, कोतवाली थाना के खिरहनी फाटक क्षेत्र में राकेश उर्फ बब्बा निषाद 36 साल परिवार के साथ रहता है। उसकी14 साल की एक बेटी और 12 साल का एक बेटा भी है।
-उसने अपनी बेटी कशिश निषाद और बेटे साहिल निषाद की हत्या कर दी। इन मासूम बच्चों पर उसने कुल्हाड़ी से बेरहमी से कई वार किए।

-कुल्हाड़ी के वारों से बिटिया कशिश की मौके पर ही मौत हो गई। इधर बेटे साहिल को गंभीर हालत में इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया पर चोटें इतनी घातक थीं कि उसने भी कुछ ही देर में दम तोड़ दिया।

पत्नी को कमरे में कर दिया था बंद

-बताया जा रहा है कि आरोपी बाहर रहता था और कुछ दिन पूर्व ही घर आया है। आरोपी की पत्नी का कहना है कि उसने बच्चों की हत्या क्यों की इसका कारण उसे भी नहीं पता है।

-पति ने उसके कमरे का दरवाजा भी बाहर से बंद कर दिया था। आवाज सुनकर किसी तरह वो बाहर आई तो बच्चों को खून से लथपथ देखा।

-जानकारी मिली है कि आरोपी कागज में कुछ लिखकर गया है। पुलिस ने कागज जब्त किए है।

-हत्यारे पिता को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×