• Home
  • Mp
  • Bhopal
  • father troubled by debt in Betul district farmer did the suicide
--Advertisement--

नाबालिग की हत्या कर आंखें निकालीं, पन्ना में सामने आया सनसनीखेज मामला

नाबालिग की हत्या कर आंखें निकालीं, पन्ना में सामने आया सनसनीखेज मामला

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 11:42 AM IST
किसानों ने लगाया जाम। किसानों ने लगाया जाम।

भोपाल। बैतूल जिले में कर्ज से परेशान चार बेटियों के पिता किसान ने आत्महत्या कर ली। ओलावृष्टि से खराब हुई फसल के बाद से 30 वर्षीय मनीराम सलामे परेशान था। घटना बुधवार रात की है, जब पूरा सीताडोगरी गांव भागवत कथा सुनने पड़ोस के गांव साबाढ़ाना गया था तो किसान मनीराम सलामे ने पत्नी को खेत भेज दिया और खुद कच्चे घर के म्याल पर फांसी लगाकर लटक गया। किसान पर करीब 3 लाख रुपए का कर्ज था, जो उसने समूहों और केसीसी के माध्यम से लिया था। उसकी खुद की एक एकड़ जमीन है और 4 एकड़ जमीन बंटाई की ले रखी थी।

-किसान मनीराम के पिता भूजल सलामे ने बताया कि के किसान मनीराम ने बड़ी मेहनत से रात दिन एक करके गेहूं की फसल तैयार की थी। किसान ने करीब 3 लाख रुपए कर्ज लिया था और कर्ज चुका न पाने की वजह से परेशान था, बुधवार को उसने म्याल में लटक कर फांसी लगा ली।

-देर रात परिजन पहुंचे और दरवाजा खटखटाया तो वह अंदर से बंद था। दरवाजा तोड़कर परिजन अंदर घुसे तो उनका बेटा फांसी में झूल रहा था।
-सुबह डायल-100 पुलिस ने मौके पर पहुंचकर डेड बॉडी को नीचे उतारा। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

-30 वर्षीय मनीराम सलामे की चार बेटियां है। वह कर्जा चुकाने की आस में खेती मे रात दिन मेहनत कर रहा था, लेकिन ओलावृष्टि ने फसल को तबाह कर दिया। इससे वह बुरी तरह टूट गया था। कर्ज से परेशान बेटे मनीराम ने ये बात अपने पिता को बताई थी।

चार घंटे तक रखा हाइवे जाम...
-वहीं, कांग्रेस सेवादल के जिला अध्यक्ष मनोज आर्य ने किसान की डेड बॉडी के रखकर नेशनल हाइवे पर जाम लगा दिया। 15-20 मिनट बाद पुलिस ने उनसे डेड बॉडी ले ली, इसके बाद भी 4 घंटे तक सैकड़ों लोगों ने हाइवे जाम रखा हे। उनका कहना है कि मृतक किसान के घर वालों को फौरन 5 लाख की मदद की जाए।