Home | Madhya Pradesh News | Bhopal News | Girl, pregnant in a few months of marriage, court declared zero

शादी के कुछ ही महीने में प्रेग्नेट हुई लड़की, कोर्ट ने सुनाया ये चौंकाने वाला फैसला

शादी के कुछ ही महीने में प्रेग्नेट हुई लड़की, कोर्ट ने सुनाया ये चौंकाने वाला फैसला

Sumit Pandey| Last Modified - Feb 08, 2018, 06:29 PM IST

1 of
Girl, pregnant in a few months of marriage, court declared zero
प्रेग्नेट लेडी। -फाइल

भोपाल। बैतूल जिले में शादी के 4 महीने बाद लड़की प्रेग्नेट हो गई, पति को इसकी जानकारी हुई तो उसके होश उड़ गए। उसने कोर्ट में पत्नी के खिलाफ छल-कपट के साथ विवाह करने की याचिका दायर कर दी। बैतूल जिले की मुलताई कोर्ट के अपर सेशन जज कृष्णदास महार ने तमाम गवाहों व दलीलों को सुनने के बाद विवाह को जीरो घोषित कर दिया। साथ ही पत्नी की तरफ से की गई भरण-पोषण की राशि का लाभ देने की अपील भी खारिज कर दी गई। 

 

ये था पूरा मामला...

-मुलताई के एक ग्रामीण युवक ने लड़की से अप्रैल 2016 में शादी की थी। शादी के 4 माह बाद जब वह गर्भवती बीबी का डॉक्टरी परीक्षण कराने ले गया तो उसके पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। जांच में पता चला कि उसकी बीवी को 32 सप्ताह 4 दिन का यानी करीब 8 माह का गर्भ है, जबकि उसकी शादी को अभी चार माह ही गुजरे थे। इसे पत्नी द्वारा उसके साथ छल मानते हुए व्यक्ति ने हिन्दू मैरिज एक्ट की धारा 12 के तहत पत्नी के खिलाफ याचिका पेश कर दी।
 

मुझे छला गया...
-मुलताई के अपर जिला न्यायाधीश कृष्णदास महार की अदालत में पति द्वारा अपने विवाह को शून्य घोषित करने की याचिका पेश की गई थी।

-पति ने अदालत को बताया कि उसके साथ छल कपट कर शादी के पूर्व की जानकारी छिपाई गयी थी।

-जबकि वधु पक्ष ने इस मामले में भरण पोषण दिलाने की मांग की गई। अदालत ने इस मांग को खारिज कर व्यक्ति का विवाह शून्य घोषित कर दिया।
 

पहले से प्रेग्नेट थी युवती... 

-अधिवक्ता राजेंद्र उपाध्याय ने गुरुवार को कहा, मेरे मुवक्किल का विवाह अप्रैल, 2016 में उस युवती के साथ हुआ था। शादी के बाद जब पति को गर्भधारण की बात पता चली, तो उन्होंने डॉक्टर से संपर्क किया। चिकित्सक ने युवती को 32 सप्ताह यानी 8 महीने का गर्भ होने की बात कही। जबकि विवाह को केवल चार महीने ही हुए थे।

-डॉक्टरों की गवाही एवं तर्कों के बाद न्यायालय ने माना कि विवाह के पहले ही लड़की गर्भवती थी। इस पर न्यायाधीश महार ने विवाह को ही अमान्य घोषित कर दिया।

Girl, pregnant in a few months of marriage, court declared zero
-फाइल फोटो।
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now