--Advertisement--

गोलीकांड में मारे गए किसानों के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति देगी सरकार

गोलीकांड में मारे गए किसानों के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति देगी सरकार

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 06:16 PM IST
पूरे मध्य प्रदेश में हुआ था कि पूरे मध्य प्रदेश में हुआ था कि

भोपाल। सात माह पहले मंदसौर में हुए किसान आंदोलन में पुलिस फायरिंग से मरने वाले छह किसानों के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति पर सरकार ने मुहर लगा दी। सात महीने से मरने वालों के परिजन नौकरी के लिए भटक रहे थे। इसे लेकर सरकार की किरकिरी भी हो रही थी। बुधवार को कैबिनेट ने इस पर मुहर लगा दी। इससे किसानों के उन परिजनों के घावों पर कुछ मरहम लग सकेगा। बता दें कि मंदसौर में छह जून को पुलिस की गोली से छह किसानों की मौत हो गई थी।
-घटना के साढ़े चार माह बाद मंदसौर कलेक्टर ने नौकरी दिए जाने का प्रस्ताव भेजा था।
-ढाई माह से फाइल सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) और वित्त विभाग के बीच घूम रही थी।

ऐसे बात नौकरी पर अटकी
-फाइल का यह खेल तब हो रहा है, जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतक परिवारों को एक-एक करोड़ रुपए की आर्थिक मदद देने के साथ घोषणा की थी कि परिवार के एक सदस्य को नौकरी भी दी जाएगी। मंत्राालय सूत्रों का कहना है कि मृतक परिजनों से नौकरी दिए जाने का आवेदन लेने में ही समय ज्यादा लगा दिया गया। बाद में इस बात को लेकर भी स्थिति साफ नहीं हो पाई कि नौकरी किसे दी जाए, क्योंकि एक मृतक के परिजनों ने चाचा को नौकरी देने की बात कह दी। अंतत: तय हुआ कि मृतक के परिवार को ही नौकरी दी जाएगी।

मंत्रालय में घूमती रही फाइल
-सामान्य प्रशासन विभाग ने फाइल पर अपनी टीप लिखने के बाद परीक्षण के लिए उसे वित्त विभाग भेज दिया। अब यह फाइल वित्त में पड़ी है। वित्त विभाग तय नहीं कर पा रहा है कि वह क्या अभिमत दे। हालांकि वे भी तकरीबन सामान्य प्रशासन विभाग की राय से सहमति दिखाने की तैयारी में है। एक-दो दिन में वित्त विभाग की राय देने के बाद फाइल गृह विभाग में पहुंचेगी। इसके बाद इसे कैबिनेट में ले जाया जाएगा।

यह था मामला
-किसान आंदोलन के दौरान जून 2017 के पहले सप्ताह में मंदसौर में यह गोलीकांड हुआ था। इसमें सीआरपीएफ जवानों की फायरिंग में छह किसानों की मौत हो गई थी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने किसान आंदोलन को रोकने के लिए भेल के दशहरा मैदान में 28 घंटे का उपवास भी किया था। तब मंदसौर के मृतक किसान परिजनों को बुलवाकर सीएम का उपवास तुड़़वाया था।

X
पूरे मध्य प्रदेश में हुआ था किपूरे मध्य प्रदेश में हुआ था कि
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..