भोपाल

--Advertisement--

लड़की के दादा ने रखी थी ये शर्त, इसलिए वर-वधू ने खुद पढ़े शादी के मंत्र

लड़की के दादा ने रखी थी ये शर्त, इसलिए वर-वधू ने खुद पढ़े शादी के मंत्र

Danik Bhaskar

Dec 13, 2017, 02:55 PM IST
दुल्हन के दादा ने रख दी शर्त, इस दुल्हन के दादा ने रख दी शर्त, इस

भोपालमध्य प्रदेश के विदिशा जिले में एक अनोखी शादी हुई, जिसमें सैकड़ों की संख्या में लोग शामिल हुए। इसमें पंडित और आचार्य शामिल तो हुए लेकिन शादी के मंत्र दूल्हा-दुल्हन को ही पढ़ने पड़े। मंत्र पढ़ते हुए दोनों ने सात फेरे लिए और एक-दूजे का जीवनभर हाथ थामने का वादा किया।

- असल में, दुल्हन के दादा ने अपनी पोती की शादी करने से पहले ये शर्त रखी थी कि मंत्र दूल्हे को ही पढ़ने होंगे, तभी हम बेटी का विवाह करेंगे।

- दूल्हा पेशे से इंजीनियर है। उसने विवाह के समय पढ़े जाने वाले मंत्रों के लिए इंटरनेट खंगाला, इसके बाद विशेष पंडित से मिला, मंत्रों को याद किया। इसके बाद शादी रचाई।

शादी से पहले लड़का पक्ष के सामने रखी गई शर्त
- दुल्हन के दादा शिवप्रसाद आर्य ने बताया कि पोती का विवाह नटेरन तहसील के रावण गांव में तय हुआ था। विवाह तय होते ही मैंने अपने बेटे सरजन आर्य से कहा कि, विवाह मेरी शर्तों पर होगा। बेटे और पोती ने सहमति मिलने के बाद मैंने वर पक्ष से बात की। उन्हें बताया कि विवाह दिन में होगा और सारे मंत्र वर-वधु स्वयं पढ़ेंगे। इस पर दोनों परिवार राजी हो गए।

इंजीनियर दूल्हे ने इंटरनेट खंगाला, पंडित से मिला

- दूल्हा जितेंद्र दुबे इंजीनियर है और वधु प्राची ने बीएससी किया है। शादी से पहले दोनों ने पंडितों और इंटरनेट के जरिए सभी रस्मों के लिए मंत्र सीखें। विवाह के लिए होशंगाबाद से आचार्य योगेंद्र याज्ञिक विशेष रूप से आए थे। उनकी मंडली ने संगीत के सुर छेड़े। संगीतमय माहौल में वैदिक रीति से मंत्र पढ़े गए और इस तरह पूरा विवाह संपन्न हुआ। सात फेरे के दौरान दूल्हा-दुल्हन ने मंत्रोच्चार पढ़े।

एक दिन पहले हुई थी माता-पिता की पूजा
- वैदिक रीति के इस विवाह में रविवार को मातिृका पूजन में वधु प्राची के पिता सरजन ने अपनी पत्नी अरुणा के साथ अपने पिता शिवप्रसाद और मां की पूजा अर्चना की थी। वहीं प्राची ने भी अपने दादा-दादी की पूजा अर्चना की थी। सरजन पगरानी गांव में खेती करते हैं और पत्नी अरुणा सरकारी स्कूल में टीचर हैं। ब्राह्मण समाज का शहर में इस रीति से पहला विवाह हुआ है। विवाह में कई गांवों के लोग शामिल हुए।

Click to listen..