Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Happiness That Has Come In The Organization Of The Aarushi Institution

जो खुशी आरुषि के स्पेशल बच्चों के बीच मिली, वैसी पहले कहीं नहीं मिली: गवर्नर

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल महिला दिवस के दिन पहुंची अारुषि संस्था, 50 हजार डोनेट किए।

Rashmi Prajapati | Last Modified - Mar 08, 2018, 06:44 PM IST

  • जो खुशी आरुषि के स्पेशल बच्चों के बीच मिली, वैसी पहले कहीं नहीं मिली: गवर्नर
    +4और स्लाइड देखें
    महिला दिवस के दिन मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल आरुषि संस्था पहुंचीं।

    भोपाल.मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का बच्चों से खास लगाव है। शपथ लेने के बाद वह सबसे पहले बच्चों से मिलने गई थीं। गुरुवार को वह डाउन सिंड्रोम, सेरिब्रल पाल्सी, मेंटली रिटायर्ड, आर्टिस्टिक, हियरिंग इम्पीयर्ड और ब्लाइंडनेस.. जैसी अलग-अलग शारीरिक विषमताओं के साथ जी रहे बच्चों से मिलने संस्था आरुषि पहुंचीं। कुछ बच्चों ने उन्हें गीत सुनाई, तो कुछ ने प्यार से गले लगा लिया। कुछ ने आनंदी बेन पटेल से पढ़ाई-लिखाई और फ्यूचर टार्गेट्स की बातें कीं, तो कुछ आनंदी बेन से पुलिस में जाने का ड्रीम शेयर किया। इंटरनेशनल विमन्स डे पर आनंदी बेन पटेल ने आरुषि पहुंच वहां की गतिविधियों के बारे में जाना। आरुषि की कनुप्रिया का गीत ‘ये रातें ये मौसम नदी का किनारा..’ गीत सुन राज्यपाल भावुक हो गईं।

    -आनंदीबेन पटेल ने कहाकि मैं पिछले डेढ़ महीने से शहर में भ्रमण कर रही हूं, लेकिन जो खुशी आज मिली है। वह इसके पहले कभी नहीं मिली। भावुक राज्यपाल आज बच्चों से मिलकर बहुत खुशी हुई है।

    -आरुषि संस्था पहुंची राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बच्चों से मुलाकात की। इस दौरान बच्चाें ने राज्यपाल को गाना सुनाया। उनके साथ आईएएस मोहन राव भी मौजूद रहे। आरुषि संस्था को कवि व गीतकार गुलजार द्वारा भेंट की गई पेंटिंग और पियानो को भी देखा।

    रीफ्रेशेबल ब्रेल डिस्प्ले खरीदने को दी डोनेशन
    -ब्लाइड बच्चों को कंप्यूटर स्क्रीन पढ़ने में मदद करने वाली डिवाइस रीफ्रेशेबल ब्रेल डिसप्ले खरीदने के लिए आनंदी बेन ने 50 हजार रुपए की सहायता राशि आरुषि को दी। इस नई तकनीकी डिवाइस को कंप्यूटर पर लगाने पर स्क्रीन पर लिखा सबकुछ ब्रेल में उभर जाता है। इस डिवाइस से देख सकने में असमर्थ बच्चे भी कंप्यूटर पर काम कर सकते हैं। अमूमन बच्चे कंप्यूटर पर ब्रेल में टाइप तो कर लेते हैं, लेकिन उन्हें स्क्रीन पर क्या लिखा है, यह पता नहीं चल पाता। ऐसे में स्क्रीन पर लिखा हुआ भी यह बच्चे आसानी से पढ़ सकेंगे।

    अचानक पहुंची थीं रेडक्रास अस्पताल

    -काफी दिनों बाद मध्य प्रदेश को ऐसा राज्यपाल मिला है, जो काफी एक्टिव है। भोपाल आने के बाद से ही राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सरकारी और गैरसरकारी संस्थाओं के दौरे और निरीक्षण कर रही हैं। बुधवार को ही राज्यपाल आनंदीबेन पटेल अचानक रेडक्रास के दौरे पर पहुंच गई थीं। जहां उन्होंने मरीजों से हालचाल लिए थे, खासकर महिला मरीजों से इलाज और अन्य सुविधाओं की जानकारी ली थी।

  • जो खुशी आरुषि के स्पेशल बच्चों के बीच मिली, वैसी पहले कहीं नहीं मिली: गवर्नर
    +4और स्लाइड देखें
    राज्यपाल ने कहा, उन्हें संस्था में आकर काफी खुशी है।
  • जो खुशी आरुषि के स्पेशल बच्चों के बीच मिली, वैसी पहले कहीं नहीं मिली: गवर्नर
    +4और स्लाइड देखें
    राज्यपाल ने संस्था के बच्चों से बातचीत की।
  • जो खुशी आरुषि के स्पेशल बच्चों के बीच मिली, वैसी पहले कहीं नहीं मिली: गवर्नर
    +4और स्लाइड देखें
    राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने संस्था की कार्य व्यवस्था की जानकारी भी ली।
  • जो खुशी आरुषि के स्पेशल बच्चों के बीच मिली, वैसी पहले कहीं नहीं मिली: गवर्नर
    +4और स्लाइड देखें
    राज्यपाल के आग्रह पर बच्चों ने गाना सुनाया।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Happiness That Has Come In The Organization Of The Aarushi Institution
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×