Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» He Wrote Suicide Note, Then Death Of Wife And Children

भोपाल

भोपाल

Sumit Pandey | Last Modified - Dec 18, 2017, 03:21 PM IST

भिलाई।यहां के संग्राम चौक में सोमवार सुबह घर में एक ही परिवार के चार लोगों की लाशें मिली हैं। पति ने पहले पत्नी की मांग में सिंदूर लगाया फिर दो बच्चों सहित उसकी हत्या कर ली। इसके बाद खुद रसोईघर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस को घटनास्थल से एक तीन पेज का सुसाइड नोट भी मिला है। जिसमें पति ने साथ जीने-मरने की बात लिखी है। घटना की सूचना मिलते ही सीएसपी अजीत यादव और छावनी टीआई राजेश साहू मौके पर पहुंचे। क्या है पूरा मामला...

- सीएसपी अजीत यादव ने बताया कि मृतक का नाम अशोक चक्रवर्ती है। घटनास्थल से सुसाइड नोट मिला है। जिसमें 35 वर्षीय युवक ने साथ जीने और साथ मरने का जिक्र किया है। पत्नी का नाम गैस भरी भाई बताया जा रहा है। करीब 8 साल पहले इन लोगों ने लव मैरिज शादी।

मां के साथ मौत की आगोश में सो गए बच्चे
- घटना की जानकारी लगते ही घर के बाहर लोगों का जमावड़ा लग गया। मां के पास बच्चों की लाशें पड़ी थीं। छावनी पुलिस ने बताया कि आत्महत्या करने वाला युवक का शव फंदे पर लटका हुआ घर के सामने कमरे में मिला है। वहीं पत्नी गेश्वरी और 5 साल की बेटी रागिनी, 2 साल के बेटे सागर का शव बेडरूम के बिस्तर पर मिला है। दोनों बच्चे मां के आजू-बाजू मौत की आगोश में सोए हुए मिले हैं। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

सुसाइड नोट में लिखा, साथ जिएंगे, साथ मरेंगे
प्रजापति परिवार के मुखिया अशोक ने पत्नी और बच्चों को मारने के बाद नाइलोन की रस्सी का फंदा बनाया। डायरी की तीन पेज का सुसाइड नोट लिखकर खुद की जीवन लीला समाप्त कर ली। इसमें अशोक ने लिखा कि साथ जिएंगे और साथ मरेंगे। इसमें किसी की कोई गलती नहीं है।

पत्नी को मारने से पहले भरी मांग

- पुलिस ने बताया कि मृतक की पत्नी के मांग में नव विवाहिता की तरह सिंदूर भरा हुआ है। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि घटना को सोते समय अंजाम नहीं दिया गया है। सिंदूर भरने के बाद उसने पत्नी का गला दबाकर हत्या कि और फिर बच्चों को भी इसी तरह मौत के घाट उतार दिया। पड़ोसियों ने बताया कि देर रात तक घर से कोई आवाज तो नहीं आया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×