--Advertisement--

बस पलटने से एक की मौत, ५० से ज्यादा लोग घायल, भोपाल रेफर

बस पलटने से एक की मौत, ५० से ज्यादा लोग घायल, भोपाल रेफर

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 04:35 PM IST
जमुनिया घाट पर बस अनियंत्रित ह जमुनिया घाट पर बस अनियंत्रित ह

रायसेन(मध्यप्रदेश). सिलवानी के जमुनिया घाट पर बस को न्यूट्रल कर चालक नीचे उतार रहा था। इसी दौरान घाटी के मोड़ पर चालक ने बस से नियंत्रण खो दिया, जिससे बस सड़क से नीचे उतरकर पलट गई। इस हादसे में दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 73 यात्री घायल हो गए। इनमें से 38 यात्रियों की हालत गंभीर है, जिन्हें रायसेन रेफर किया गया है। यह हादसा रविवार दोपहर 2.30 बजे हुआ।

घाटी पर बस दो पलटी खाने के बाद पलट गई
बस में सवार होकर गैरतगंज से सिलवानी आ रहे मुंआर निवासी सौरभ रघुवंशी ने बताया कि वह गैरतगंज से बस में सवार हुआ था। बस में 70 से अधिक यात्री भरे हुए थे। जमुनिया घाटी पर बस को नीचे उतारते समय चालक ने बस को न्यूट्रल कर दिया, जिससे मोड़ आते ही बस को चालक नियंत्रित नहीं कर पाया। इससे बस दो पलटी खाने के बाद पलट गई।

तेज गति से बस को दौड़ा रहा था चालक
गैरतगंज से केसली जाने के लिए सवार हुई महिला नन्नी बाई लोधी ने बताया कि बस ठसाठस यात्रियों से भरी हुई थी। अधिकतर यात्री बस में खड़े होकर यात्रा कर रहे थे। चालक को कई लोगोें ने धीरे बस चालने के लिए टोका भी था, लेकिन उसने किसी की नहीं सुनी और तेज गति से बस को दौड़ाता रहा। बस में ज्यादा सवारियां होेने से ही बस मोड़ पर अनियंत्रित हाेकर पलट गई।

42 सीटर बस में थे 75 यात्री
बेगमगंज से बरेली के बीच चलने वाली अहिंसा ट्रेवल्स की यह बस 42 सीटर है, लेकिन इस बस में 75 यात्री सफर कर रहे थे। इस बस का 18 फरवरी 2009 को उज्जैन आरटीओ में रजिस्ट्रेशन हुआ है, जो 9 साल एक माह पुरानी बताई जा रही है। जनवरी में बस का फिटनेस सर्टिफिकेट समाप्त हो गया था। इससे यह बस बिना फिटनेस सर्टिफिकेट के चल रही थी।

बस के कांच फोड़कर यात्रियों को निकाला बाहर
बस के पलटने के बाद यात्री उसके अंदर फंस गए थे, जिन्हें बाहर निकालने के लिए बस के कांच को फोड़ना पड़ा, तब कहीं जाकर यात्रियों को बाहर निकाला जा सका। घायलों की संख्या ज्यादा होने से पुलिसकर्मियों ने दूसरे वाहन को बुलाकर घायलों को अस्पताल भेजने की व्यवस्था कराई।


प्राइवेट डाॅक्टरों ने भी इलाज में किया सहयोग
बस हादसे में बड़ी संख्या में लोगों के घायल होने की जानकारी मिली तो शहर के प्राइवेट चिकित्सक भी सहयोग करने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंच गए, जिन्होंने घायल मरीजों का इलाज करना प्रारंभ कर दिया। इससे घायलों को तत्काल प्राथमिक उपचार मिल गया।


चालक माैके से हुआ फरार
सिलवानी टीआई आरडी शर्मा के मुताबिक, बस पलटने के बाद चालक फरार हो गया, जिसकी तलाश की जा रही है। गंभीर रूप से घायल 38 मरीजों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

अस्पताल पह़ुंचे पीडब्ल्यूडी मंत्री ने दिए जांच के आदेश
मंत्री रामपाल सिंह राजपूत अस्पताल पहुंचे। उन्होंने डॉक्टरों को बेहतर इलाज के निर्देश दिए। दोनों मृतकों के परिजनों को मुख्यमंत्री सहायता से राशि दिलाने का भरोसा दिलाया। उन्होंने हादसे की जांच करवाने की बात कही है। जमुनिया घाट पर होने वाले हादसों को रोकने घाट को सीधा करवाने का भी भरोसा दिलाया। मृतकों की पहचान टेकापार निवासी खुशीलाल शर्मा 65 और ज्ञानी प्रसाद खजुरिया बेलई 55 रायसेन के रूप में हुई है।