--Advertisement--

भोपाल

भोपाल

Dainik Bhaskar

Dec 23, 2017, 11:24 AM IST
रेल एसपी अनिता मालवीय को बाद म रेल एसपी अनिता मालवीय को बाद म

भोपाल। पीएससी की तैयारी कर रही छात्रा से गैंगरेप के बहुचर्चित मामले में विशेष न्यायाधीश सविता दुबे शनिवार को फैसला सुनाएंगी। इस केस के सभी चार आरोपी कोर्ट पहुंच चुके हैं। इन्हें कोर्ट की बैरक रखा गया है। इसके साथ ही विक्टिम भी कोर्ट में कड़ी सुरक्षा के बीच मौजूद है। थोड़ी देर में फैसला सुनाया जा सकता है।


- मामले की गंभीरता और आरोपियों पर लगाई गई धाराओं को देखते हुए सरकारी वकील रीना वर्मा और पीएन सिंह ने कोर्ट से उम्रकैद की अपील की है। आरोपियों ने 31 अक्टूबर की शाम को विदिशा निवासी छात्रा के साथ हबीबगंज रेलवे ट्रैक के पास पुलिया के नीचे गैंगरेप और लूटपाट की घटना को अंजाम दिया था। गैंगरेप को शनिवार को 53 दिन पूरे हो गए।


बोलीं चार थाने घूम आईं, सिर में दर्द हो गया

- इस मामले में पुलिस की लापरवाही उजागर हो गई थी। एसपी रेल ने बेशर्मी की सारी हदों को पार करते हुए विक्टिम से कहा था कि चार थाने घूमकर हमारे पास आई। सुबह से सुन-सुनकर सिर में दर्द हो गया। इसके बाद शिवराज सरकार को गैंगरेप केस की जांच एसआईटी को दे दी थी। इसकी सुनवाई फास्टट्रैक कोर्ट में हुई थी। मामले पर सख्त रुख अपनाते हुए सरकार ने पांच पुलिस अफसरों को सस्पेंड कर दिया था। एक अफसर को पुलिस हेडक्वार्टर में अटैच किया गया है। हैरानी की बात ये है कि जब इस मामले पर जीआरपी एसपी अनीता मालवीय से सवाल किए गए तो वो मीडिया के सामने हंसती नजर आईं। घटना के दो दिन बाद सरकार ने उन्हें भी हटाकर पुलिस मुख्यालय अटैच कर दिया है

सीएम को करना पड़ा था हस्तक्षेप
- इस मामले में पुलिस की लापरवाही सामने आने पर सीएम शिवराज सिंह को खुद हस्तक्षेप करना पड़ा था। उन्होंने लापरवाही बरतने वाले अफसरों पर फौरन कार्रवाई के आदेश दिए।


बोलीं, सिर में दर्द हो गया

जानकारी के अनुसार एसपी अनीता मालवीय (रेलवे पुलिस) ने गुरुवार को मीडिया को इस मामले की जानकारी दी। इस दौरान वे लगातार मुस्कुरा रही थीं, उनके रवैये से यह बिलकुल नहीं लग रहा था कि वे संवेदनशील मुद्दे को लेकर जरा भी गंभीर हैं। बातों ही बातों में उन्होंने मीडिया के सामने यह तक कह दिया कि, 'हमारे पास जब रिपोर्ट आई, हमने मामला दर्ज कर लिया। इस मुद्दे ने तो सिर में दर्द कर दिया है।'

क्या है मामला?
- घटना 31 अक्टूबर शाम की है। कोचिंग सेंटर से लौट रही 19 साल की लड़की को चार बदमाशों ने रोका। उसके साथ मारपीट और लूटपाट के बाद करीब की झाड़ियों में ले जाकर गैंगरेप किया। घटना स्थल से आरपीएफ चौकी (रेलवे पुलिस फोर्स) सिर्फ 100 मीटर दूर है।
- आरोपियों ने विक्टिम का मोबाइल फोन और कुछ जूलरी भी लूटी। पुलिस के मुताबिक, आरोपियों को लगा कि लड़की की मौत हो गई है तो वो उसे छोड़कर भाग गए।
- होश आने पर विक्टिम आरपीएफ थाने पहुंची। वहां से उसने पिता को घटना के बारे में जानकारी दी। उसके पिता आरपीएफ में ही हैं।

X
रेल एसपी अनिता मालवीय को बाद मरेल एसपी अनिता मालवीय को बाद म
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..