भोपाल

  • Home
  • Mp
  • Bhopal
  • PS ask What a terrible fire that took place in Bhanpur Khanti
--Advertisement--

भोपाल

भोपाल

Danik Bhaskar

Jan 31, 2018, 04:26 PM IST
भानपुर ख्ंती में दूसरे दिन भी भानपुर ख्ंती में दूसरे दिन भी

भोपाल। भानपुर खंती में सुलग रही आग बुधवार को भी काबू नहीं हो पाई है। इस बीच प्रमुख सचिव पर्यावरण विभाग अनुपम राजन ने खंती का दौरा किया। उन्होंने खंती के अंदर जाकर पूरी स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने आग बुझाने में जुटे निगम अमले से इस संबंध में चर्चा की। खंती से उठ रहे धुंए से वायु प्रदूषण होने के मामले में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (पीसीबी) ने नगर निगम आयुक्त को नोटिस जारी किया है।

-बुधवार को करीब 11 बजे खंती पहुंचे प्रमुख सचिव राजन के मौके पर मौजूद निगम अधिकारियों को आदेश दिए कि फायर फाइटर की संख्या बढ़ाई जाए ताकि जल्द से जल्द आग पर काबू पाया जा सके। उन्होंने सुझाव दिया है कि खंती के पास से गुजर रहे पातरा नाले के पानी काे स्टोर कर उसे आग बुझाने के काम में लिया जाए। यहीं नहीं, खंती में होने वाली हर हरकत पर नजर रखने के लिए कैमरे लगाने को भी कहा है।

367 पर पहुंचा प्रदूषण का पीएम-10
-पीसीबी ने खंती के आस-पास से मंगलवार को वायु प्रदूषण का जो स्तर नाता था उसकी जांच रिपोर्ट बुधवार को आ गई है। इस रिपोर्ट में पीएम-10 का लेबल 367 माइक्रो ग्राम मिला है।

-यह स्थिति हवा की दिशा में लिए गए सेंपल की है जबकि, हवा की विपरीत दिशा में लिए गए सेंपल में पीएम-10 का लेबल 307.4 दर्ज हुआ। यह सामान स्तर 100 माइक्राे ग्राम से तीन गुना से भी अधिक है।

निगम ने नाल में उतारे तीन पंप
-प्रमुख सचिव राजन के आदेश पर नगर निगम ने तीन डीवाटरिंग पंप पातरा नाले में उतार दिए हैं। इन पंप की मदद से नाले के पानी को खंती में लगी आग बुझाने में उपयोग किया जा रहा है।

-एएचओ राकेश शर्मा ने बताया कि खंती में कैमरे लगाने संबंधी सुझाव से आला अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है।
हालात जस के तस, मौसम ने दी राहत
-खंती में लगी आग को बुझाने निगम के फायर फाइटर और टैंकर लगे हुए हैं। फायर Ÿ'फिसर रामेश्वर नील खंती में ही डेरा डाले हुए हैं।

-करीब 100 निगमकर्मी दिनभर आग बुझाने में लगे रहे। इतनी मशक्कत से सिर्फ यह फायदा हुआ है कि आग की लपटें उठना बंद हो गई हैं।

-लेकिन कचरे के ढेर से अभी भारी मात्रा में लगातार धुंआ का गुबार उठ रहा है। दिन का तापमान बढ़ने से धुंआ ऊपर की ओर जा रहा है। इससे लोगों को कुछ राहत मिल गई है। अगर तापमान गिरा तो परेशानी फिर बढ़ जाएगी।

Click to listen..