Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News »News» Rifleman RamAuttar Martyr In Shooting Fire On Pak Border

सैनिक की पत्नी ने कहा- खून का बदला खून, नम आंखों से शहीद को अंतिम विदाई

dainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 06, 2018, 04:57 PM IST

ग्वालियर में सेना के राइफलमैन रामऔतार तीन महीने पहले पिता बनने पर आए थे घर।
  • सैनिक की पत्नी ने कहा- खून का बदला खून, नम आंखों से शहीद को अंतिम विदाई
    +5और स्लाइड देखें
    राइफलमैन ग्वालियर के रामऔतार। रात को लोगों ने मोबाइल रोशनी करके अंतिम विदाई दी।

    भोपाल।पाकिस्तानी सेना की जम्मू कश्मीर के पुंछ और राजौरी सेक्टर में भारी गोलाबारी में सेना के एक कैप्टन और तीन जवान शहीद हो गए। शहीदों में मध्य प्रदेश के ग्वालियर निवासी 27 वर्षीय राइफलमैन रामऔतार भी शामिल हैं। रामऔतार तीन साल पहले ही सेना में भर्ती हुए थे। तीन महीने पहले आखिरी बार बेटी के जन्म पर घर आए थे। सोमवार को देर शाम नम आंखों से शहीद रामऔतार को अंतिम विदाई दी गई। पूरा शहर जैसे अंतिम विदाई उमड़ आया हो।

    -सीमा पर छुट्टी खत्म करके वापस जाते समय नन्हीं सी बेटी को गोद में लेकर कहा था, बेटी से मिलने जल्दी आऊंगा। पर अब नहीं लौट सकेगा राइफल मैन रामऔतार।

    ऐसा है परिवार...
    -वे तीन भाइयों में दूसरे नंबर के थे। बड़े भाई का नाम महेंद्र और छोटे का शंकर है। बरौआ सरपंच वीरेंद्र सिंह राजपूत के मुताबिक उनके पिता का 3 साल पहले निधन हो चुका है। राम अवतार के परिवार में पांच साल का बेटा दिव्यांश और तीन महीने की एक बेटी है। महेंद्र के बड़े भाई महेंद्र, छोटा भाई शंकर और पत्नी रचना गांव में ही रहती हैं।

    पत्नी ने कहा, अब पाकिस्तान को सबक सिखाए भारत

    -पाकिस्तान की गोलाबारी में शहीद हुए ग्वालियर के सपूत रामऔतार की पत्नी रचना ने पाकिस्तान से खून का बदला खून से चाहती है। पति की शहादत के बारे में पता लगते ही रचना गमगीन हो गई। रचना ने सरकार से अपील की है कि उसे पाकिस्तान से खून का बदला खून से चाहिए। रोजाना सैनिक शहीद हो रहे हैं। इस बार सरकार पाकिस्तान को सबक सिखाए। जब भी उन्हें समय मिलता था, वह वीडियो कॉल करके बिटिया को खिलाते थे।

    अब हमारी जिम्मेदारी है तीन माह का बच्चा

    सीएम शिवराज सिंह ने एक ट्वीट के जरिए ग्वालियर के शहीद रामऔतार लोधी के प्रति श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उनके तीन महीने के बच्चे की जिम्मेदारी अब हमारी है। उन्होंने इसे पाकिस्तान की कायराना हरकत बताया। साथ ही शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

    देश के लिए सब कुछ न्यौछावर...

    -राइफलमैन रामऔतार के लिए पहला धर्म देश की सेवा था। बरौआ के सरपंच ने बताया कि वह सीमा पर होने वाली लड़ाईयों के किस्से भी सुनाता था और कहता था कि हम कैसे पाक को सबक सिखाते हैं। लड़ाइयों के किस्से सुनाता और देश के लिए अपना सब कुछ न्यौछावर कर गया।

    22 वर्षीय कैप्टन भी शहीद

    -भारतीय सेना ने भी पाक सेना को मुंहतोड़ जवाब दिया है। सेना के अधिकारियों के मुताबिक, पाक सेना की गोलाबारी में कैप्टन गोलीबारी लगभग सुबह 11 बजे शुरू हुई, इस हमले में हरियाणा के 22 वर्षीय कपिल कुंडू शामिल हैं।

    पाक सेना की नापाक कोशिश
    -बता दें कि पाकिस्तानी सेना ने नियंत्रण रेखा पर राजौरी के भिंबर गली सेक्टर में रविवार की शाम को छोटे हथियारों, स्वचालित हथियारों और मोर्टार से एक के बाद हमले किए। तीन सैनिक शहीद हो गए और दो अन्य घायल हो गए।

  • सैनिक की पत्नी ने कहा- खून का बदला खून, नम आंखों से शहीद को अंतिम विदाई
    +5और स्लाइड देखें
    रामऔतार और उनकी पत्नी रचना।
  • सैनिक की पत्नी ने कहा- खून का बदला खून, नम आंखों से शहीद को अंतिम विदाई
    +5और स्लाइड देखें
    राइफलमैन ग्वालियर के रामऔतार। पाक गोलाबारी में हो गए शहीद।
  • सैनिक की पत्नी ने कहा- खून का बदला खून, नम आंखों से शहीद को अंतिम विदाई
    +5और स्लाइड देखें
    राइफलमैन ग्वालियर के रामऔतार की पत्नी रचना।
  • सैनिक की पत्नी ने कहा- खून का बदला खून, नम आंखों से शहीद को अंतिम विदाई
    +5और स्लाइड देखें
    सीएम ने ट्वीट करके दी श्रद्धांजलि दी।
  • सैनिक की पत्नी ने कहा- खून का बदला खून, नम आंखों से शहीद को अंतिम विदाई
    +5और स्लाइड देखें
    कश्मीर में सीमा की निगहबानी करता जवान। - फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Rifleman RamAuttar Martyr In Shooting Fire On Pak Border
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×