Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Sniffer Dog Jimmy Retire Of Forest Department

खौफ खाते थे JIMI डॉग से अपराधी, बदमाशों ने दी थी मारने की सुपारी

वन विभाग की पहली स्नीफर डॉग जिमी रिटायर हो गई, 100 से ज्यादा अपराधियों को पकड़वाया था।

Vandna Shroti | Last Modified - Jan 06, 2018, 02:26 PM IST

  • खौफ खाते थे JIMI डॉग से अपराधी, बदमाशों ने दी थी मारने की सुपारी
    +4और स्लाइड देखें
    तबियत खराब होने की वजह से दो साल पहले ही जिमी को लेना पड़ा रिटायरमेंट।

    भोपाल।वन विभाग की पहली स्नीफर डॉग जिमी रिटायर हो गईं। उसे दो साल पहले ही रिटायरमेंट लेना पड़ा। असल में, वह काफी समय से बीमार थी। तमाम जांच और दवा करने के बाद भी जिमी की तबियत ठीक नहीं हुई तो वन विभाग ने जिमी को रिटायर करने का निर्णय लिया। ढोल-ढमाकों के साथ 100 से ज्यादा अपराधियों को पकड़वाने वाली जिमी को विदाई दी गई। विदाई में वन विभाग के तमाम अधिकारी-कर्मचारी परिवार के साथ पहुंचे।फूलों की माला पहने जिमी अपनी रिटायरमेंट से काफी खुश नजर आ रही थी।

    -उसकी शानदार सेवाओं काे देखते हुए सरकारी सुविधाएं जारी रखने का निर्णय वन विभाग ने किया है। इसके लिए बाकायदा पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ ने आदेश जारी किया है।

    -जिमी तबियत खराब होने के बाद उसे दो साल पहले रिटायर कर दिया गया है। रिटायरमेंट के बाद वह पचमढ़ी के पास मटकुली में सरकारी क्वार्टर में रहेगी। वन विभाग में ड्यूटी कर रहे स्निफर डॉग का रिटायरमेंट की उम्र 10 साल है।

    शिकारियों ने दे दी थी जिमी को मारने की सुपारी
    -
    अपराधियों को पकड़वाने पर माहिर जिमी को मौत के घाट उतारने के लिए शिकारियों ने सुपारी दी थी। टाइगर स्ट्राइक फोर्स के अधिकारियों ने उसके मास्टर कैलाश चढ़ार को उसकी सुरक्षा करने के लिए विशेष निर्देश दिए थे यही नहीं उसकी सुरक्षा के लिए दो वन कर्मचारी अलग से ड्यूटी में लगाए गए थे।

    - भोपाल के 23 वीं बटालियन में प्रशिक्षण पाने वाली स्निफर डॉग जिमी ने अब तक 37 अपराधियों को पकड़वा कर चुकी है।

    - वन विभाग ने वर्ष 2010 में दो डॉग को वन्य प्राणियों की खाल, मांस आदि को पकड़ने के लिए प्रशिक्षित कराया था।

    - जिसमें फीमेल डॉग जिमी कटनी में पदस्थ किया गया था वहीं मेल डॉग जैकी को इटारसी में पदस्थ किया गया था।

    - दोनों ने 100 से अधिक अपराधियों को पकड़वाया था। इनकी सफलता को देखते हुए वन विभाग ने सभी टाइगर रिजर्व में स्निफर डॉग नियुक्त करने का निर्णय लिया।

    -वर्तमान में भोपाल, इंदौर वन मंडल सहित प्रदेश के सभी टाइगर रिजर्व में स्निफर डॉग नियुक्त किए गए हैं।

    मेडिकल बोर्ड ने जारी किया सर्टिफिकेट

    -जिमी को बार बार फिट आने के बाद उसका काफी इलाज कराया। ड्यूटी करने में असमर्थ जिमी के लिए बाकायदा मेडिकल बोर्ड बैठा। बोर्ड ने उसकी जांच करने के बाद सर्टिफिकेट जारी किया, जिसमें लिखा गया नॉट फिट फॉर ड्यूटी। इसके बाद वाइल्ड लाइफ मुख्यालय ने उसे रिटायर करने का निर्णय लिया। हालांकि उसके रिटायरमेंट को दो साल बचे थे। उसे वर्ष 2020 में रिटायर होना था।


    कुछ यूं हुआ जिमी का विदाई समारोह

    जिमी का विदाई समारोह विशेष रूप से जबलपुर के टाइगर स्ट्राइक फोर्स के कार्यालय में आयोजित किया गया। जहां पर उसकी स्वास्थ्य की शुभकामनाएं देने के लिए जबलपुर सीसीएफ सहित कई अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित रहे।

  • खौफ खाते थे JIMI डॉग से अपराधी, बदमाशों ने दी थी मारने की सुपारी
    +4और स्लाइड देखें
    जिमी को विदाई देने के लिए वन विभाग के अफसर व कर्मचारी परिवार के साथ आए।
  • खौफ खाते थे JIMI डॉग से अपराधी, बदमाशों ने दी थी मारने की सुपारी
    +4और स्लाइड देखें
    ढोल-ढमाकों के साथ जिमी को दी गई विदाई।
  • खौफ खाते थे JIMI डॉग से अपराधी, बदमाशों ने दी थी मारने की सुपारी
    +4और स्लाइड देखें
    फूलों की माला पहने जिमी।
  • खौफ खाते थे JIMI डॉग से अपराधी, बदमाशों ने दी थी मारने की सुपारी
    +4और स्लाइड देखें
    जिमी की विदाई के पर्चे छापे गए।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Sniffer Dog Jimmy Retire Of Forest Department
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×