--Advertisement--

किसान महासम्मेलन में हो सकती हैं कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं

किसान महासम्मेलन में हो सकती हैं कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 11:17 AM IST
ओलावृष्टि और बारिश से हुए नुकस ओलावृष्टि और बारिश से हुए नुकस

भोपाल। राजधानी के जंबूरी मैदान पर सोमवार को किसान महासम्मेलन शुरू होने वाला है। इसके लिए प्रदेश भर से बसों में भरकर किसानों को लाया जा रहा है। दोपहर 1.15 बजे तक सीएम कार्यक्रम में नहीं पहुंचे थे। संभावना जताई जा रही थी कि भारी बारिश और ओलावृष्टि के कारण किसानों की संख्या सम्मेलन में कम रहेगी, लेकिन यहां बड़ी संख्या में किसान बसों लाए जा रहे हैं। इस महासम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगभग चार लाख किसानों के खातों में भावांतर भुगतान योजना के 620 करोड़ रुपए एक क्लिक पर खाते में हस्तांतरित करेंगे।

-इस दौरान जीरो परसेंट ब्याज की मूल रकम नहीं चुका पा रहे किसानों को ब्याज माफी देने कृषक सहायता योजना, स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को लागू करने और प्याज को न्यूनतम समर्थन से डेढ़ गुना लागत मूल्य देने सहित कुछ अन्य घोषणाएं हो सकती हैं। मुख्यमंत्री सम्मेलन में चुनिंदा किसानों को भुगतान के प्रमाण-पत्र देंगे।

-हालांकि रविवार को हुई बारिश और ओलावृष्टि के बाद किसानों का बड़ा नुकसान हुआ है, इससे किसानों की संख्या में कमी का अनुमान लगाया जा रहा है।

प्याज के न्यूनतम समर्थन मूल्य रहेगा 8 रुपए

-महासम्मेलन में सीएम शिवराज प्याज का न्यूनतम समर्थन मूल्य भी घोषित कर सकते हैं। बताया जा रहा है कि प्याज का समर्थन मूल्य आठ रुपए प्रति किलोग्राम रखने की बात कही जा रही है। मुख्यमंत्री किसानों के बकाया बिजली बिल फ्रीज कर नियमित बिल अदायगी योजना, उद्यानिकी, पशुपालन और सहकारिता विभाग से जुड़ी कुछ अन्य घोषणाएं भी कर सकते हैं।
दो लाख किसानों के आने का दावा
-कृ
षि विभाग के अधिकारियों ने बताया कि भोपाल के आसपास के जिलों से बड़ी संख्या में किसान सम्मेलन में हिस्सा लेने आएंगे। करीब दो लाख लोेगों के आने की संभावना है। हालांकि बारिश और ओलावृष्टि के कारण सम्मेलन प्रभावित रहेगा।

योजनाओं का होगा प्रचार-प्रसार
-सम्मेलन में सरकार कृषि से जुड़ी योजनाओं का प्रचार-प्रसार करेगी। इसके लिए जगह-जगह एलसीडी स्क्रीन लगाई गई हैं। इसके साथ ही कृषि अधिकारी किसानों को विभिन्न् पंडालों में योजनाओं की जानकारी देंगे।

बारिश से गिरे फ्लेक्स, बिखरी कुर्सियां
-सम्मेलन से ठीक एक दिन पहले रविवार को दोपहर में तेज हवा के साथ बारिश और ओलावृष्टि से जंबूरी मैदान पर जमाई गई व्यवस्था को चौपट कर दिया। पंडाल में लगाई गईं कुर्सियां बिखर गईं और कनात उड़कर नीचे आ गई। साथ ही रास्ते में लगाए कट-आउट भी गिर पड़े। देर शाम तक प्रबंधक व्यवस्थाओं को बनाने में लगे रहे।
अशोकनगर और शिवपुरी में नहीं होगा भुगतान
-अशोकनगर की मुंगावली और शिवपुरी की कोलारस विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर दोनों जिलों में भावांतर भुगतान योजना के तहत अंतर की राशि का भुगतान फिलहाल नहीं होगा। कांग्रेस की शिकायत पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय ने कृषि विभाग से जवाब-तलब किया था।

X
ओलावृष्टि और बारिश से हुए नुकसओलावृष्टि और बारिश से हुए नुकस
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..