• Home
  • Mp
  • Bhopal
  • Sonal Man Singh guided dance drama will be the anniversary celebration
--Advertisement--

सोनल मानसिंह निर्देशित नृत्य नाटिका की प्रस्तुति से होगा वर्षगांठ समारोह का आगाज

सोनल मानसिंह निर्देशित नृत्य नाटिका की प्रस्तुति से होगा वर्षगांठ समारोह का आगाज

Danik Bhaskar | Feb 13, 2018, 11:00 AM IST
भारत भवन की स्थापना 13 फरवरी 1982 क भारत भवन की स्थापना 13 फरवरी 1982 क

भोपाल। कला एवं संस्कृति के केंद्र भारत भवन का 36वां एनुअल फेस्ट 13 फरवरी से शुरू हो रहा है। इसमें देश के नामचीन कलाकार, रंग कर्मी, साहित्यकार और आर्टिस्ट शामिल हो रहे हैं। फेस्ट 13 से 23 फरवरी तक भारत भवन चलेगा। भारत भवन की स्थापना 13 फरवरी 1982 को की गई थी। अपनी स्थापना के समय से ही भारत भवन कला एवं संस्कृति का प्रमुख केंद्र रहा है। इसे भारतीय कलाओं का पोषक माना जाता है।

-संगीत केंद्र अनहद की ओर से आयोजित होने वाले इस दस दिवसीय आयोजन की शुरुआत मंगलवार को सुधीर पटवर्धन के चित्रों की प्रदर्शनी से होगी। नृत्य, कविता, नाटक और संगीत पर केंद्रित इस समारोह के कार्यक्रमों की रूपरेखा इस प्रकार है।

इन प्रोग्राम में दिखेगी कलाओं की झलकण...

13 फरवरी
शाम 6.35 बजे - सुधीर पटवर्धन और रामसिंह उर्वेती के चित्रों की प्रदर्शनी।
शाम 7 - सोनल मानसिंह द्वारा परिकल्पित एवं निर्देशित संकल्प से सिद्धि भरतनाट्यम पर आधारित नृत्य नाटिका की प्रस्तुति।
14 फरवरी
दोपहर 2 बजे। फिल्म बैजू बावरा का प्रदर्शन।
शाम 7 बजे। जसरंगी में अश्विनी भिड़े देशपांडे और संजीव अभ्यांकर का शास्त्रीय गायन
15 फरवरी
शाम 7 बजे- नादिरा बब्बर के निर्देशन में नाटक दयाशंकर की डायरी
16 फरवरी
दोपहर 12 बजे- चित्रकला शिविर का शुभारंभ
शाम 7 - नाटक मैथमैजीशियन की प्रस्तुति
17 फरवरी
शाम 7 - जयंत देशमुख निर्देशित नाटक नटसम्राट का मंचन
18 फरवरी
सुबह 11 बजे अशोक मिश्र, उदयन वाजपेयी, जयशंकर, तरुण भटनागर, रिजवानुल हक का कहानी पाठ
शाम 7 बजे बजे गगन गिल, पंकज राग, एकांत श्रीवास्तव, कुमार अनुपम, विवेक निराला आदि का कविता पाठ।

19 फरवरी
दोपहर 2 बजे- फिल्म चोखेरबाली का प्रदर्शन
शाम 7 बजे- मधुसूदन कर्था एवं साथी कलाकारों का चेंडा मेलम गायन
शाम 7.30 बजे- अनूप रंजन पांडे के निर्देशन में बस्तर बैंड की प्रस्तुति
20 फरवरी
शाम 7 बजे बजे लता सिंह मुंशी एवं साथी कलाकारों द्वारा नृत्य नाटिका मीरा की प्रस्तुति।
21 फरवरी
शाम 7 बजे- मप्र के लोक अंचलों की प्रस्तुतियां
22 फरवरी
शाम 7 बजे- रोनू मजूमदार और कादरी गोपालनाथ की बांसुरी और सेक्सोफोन की जुगलबंदी
23 फरवरी

सातवीं समकालीन भारतीय कला दैवार्षिकी ग्रैंड अवॉर्ड और विशेष प्रशंसा पुरस्कार प्राप्त कलाकारों का सम्मान।