Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» Suicide Note Last Line Police Take As A Important Evidence

भोपाल

भोपाल

Sushma Barange | Last Modified - Dec 24, 2017, 02:46 PM IST

भोपाल। दो महीने पहले शहर के अवधपुरी इलाके में आत्महत्या करने वाली ऐश्वर्या राव ने पिता के डर से फांसी लगाई थी। पुलिस ने जांच के बाद ऐश्वर्या के पिता सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी पर बेटी को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने इसके लिए सुसाइड नोट की अंतिम लाइनों में छात्रा द्वारा लिखा गया "आपसे डर लगता है' को आधार बनाया गया है।

यह सुसाइड नोट में लिखी थी ये बातें... रात को जो कुछ हुआ, वह एक एक्सीडेंट था। पापा ने शराब पी रखी थी। उन्होंने मम्मी से गाली-गलौच की और हंगामा करने लगे। इस बार मुझसे रहा नहीं गया और मैंने गलती से उन पर हाथ उठा दिया। वह हमेशा ही ऐसा करते हैं। आखिर कब तक ऐसा होगा। मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था, लेकिन हो गया। अब मुझे डर लग रहा है। पापा मुझे जिंदा नहीं छोड़ेंगे। वे मुझे मार देंगे। मुझे बहुत डर लग रहा है। कुछ समझ नहीं आ रहा है। अपनी जान देकर ही सबकुछ ठीक कर सकती हूं। मेरे मरने के बाद ही घर के हालात ठीक होंगे। मुझे लगता है कि इसके बाद घर के माहौल में बदलाव होगा। मैं सभी को बहुत प्यार करती हूं। मुझे माफ कर देना...ऐश्वर्या

पिता न कहा- क्या अपने बच्चों को हम डांट भी नहीं सकते शंकर राव ने बताया कि बेटी ने इसी साल 80% अंकों से बी. फार्मा किया था। वह जॉब न मिलने के कारण टेंशन में थी। मैंने उससे कहा था कि जॉब नहीं भी करेगी तो कोई बात नहीं। क्या बच्चों को थोड़ा डांट भी नहीं सकते। शहर के माहौल को देखते हुए बच्चों पर कुछ कंट्रोल तो रखना ही पड़ता है।

पुलिस ने अंतिम लाइन को बनाया आधार विजय लक्ष्मी होम्स, अवधपुरी निवासी शंकर राव पराडकर सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी हैं। उनकी 23 वर्षीय बेटी ऐश्वर्या बी.फार्मा कर रही थी। उसने 19 अक्टूबर की रात फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। टीआई अवधपुरी प्रज्ञा नाम जोशी के अनुसार मौके से अंग्रेजी में लिखा एक सुसाइड नोट मिला था। इसमें उसने आत्महत्या के लिए पिता की शराब पीने की आदत और फांसी लगाने के पहले पिता पर हाथ उठाने पर अफसोस जताया था। उसने उसे एक घटना बताया था, लेकिन अंतिम लाइनों में उसने पिता के खिलाफ अपने अंदर के डर का भी जिक्र किया था। जांच के दौरान परिजनों ने भी शंकर राव की शराब की लत को जिम्मेदार ठहराया। हालांकि किसी ने उनके खिलाफ कोई बयान नहीं दिया। पत्नी का कहना था कि शराब की आदत से हम सभी परेशान थे, लेकिन तब जब वे शराब पीकर आते थे। पुलिस ने शनिवार को शंकर राव के खिलाफ बेटी की आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: suicide note à¤à¥ लासà¥à¤ लाà¤à¤¨ à¤à
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×