--Advertisement--

दमोह में एक नाबालिग से रेप के बाद जान से मारने की धमकी

दमोह में एक नाबालिग से रेप के बाद जान से मारने की धमकी

Danik Bhaskar | Dec 26, 2017, 04:00 PM IST
दमोह थाने के बाहर विक्टिम और म दमोह थाने के बाहर विक्टिम और म

भोपाल। मध्य प्रदेश के दमोह में दरिंदों ने एक बार फिर एक नाबालिग छात्रा को अपनी हवस का शिकार बना लिया. इस मामले में गांव के सरपंच का बेटा शामिल है। घटना के बाद परिजनों को दबंग सरपंच का परिवार धमकी दे रहा है। अगर किसी को बताया तो परिवार के सभी लोगाें को जान से मार देंगे। दमोह में ठीक एक दिन पहले ही महिला को जलाए जाने की खबर सुर्खियों में थी। जबकि पिछले महीने दमोह में एक नाबालिक छात्रा को बलात्कार के बाद जिंदा जलाने की घटना भी सामने आई थी।

ये है मामला

- मामला दमोह जिले के बटियागढ़ थाना के अंतर्गत आने वाली फुटेरा चौकी के पास अगारा गांव का है। यहां की सरपंच दसोदा अजय सिंह का बेटा उदय सिंह गांव की ही किशोरी को उसकी किराना दुकान से ले गया।

- वहां से उसे गांव के पास एक सुनसान जगह पर ले गया। वहां उसने किशोरी को बंधक बनाकर उसके साथ दुराचार किया।

- शनिवार को हुए इस हादसे के बाद किशोरी रविवार की सुबह अपने घर पहुंची। जहां उसने अपनी आपबीती परिजनों को बताई।

सरपंच के बेटे ने दी धमकी

- मामले की जानकारी लगने के बाद परिजन जब फुटेरा चौकी में शिकायत दर्ज कराने जा रहे थे तो आरोपी उदय के परिजनों सहित अन्य लोगों रोककर उनको धमकी देते हुए दबाव बनाया।

- विक्टिम ने मीडिया से बातचीत में कहाकि, वह हमारी दुकान में आए थे, वहां से लेकर गए, फिर गेट बंद करके हमारे साथ दुष्कर्म किया। इनका नाम उदय और अमित हैं।

- दोनों ने बलात्कार किया। और कहा कि किसी से बताया तो जान से मार देंगे। हमने भागकर जान बचाई है और अपने माता-पिता को इसकी जानकारी दी।


- सोमवार को फुटेरा चौकी में दुराचार का मामला दर्ज किया गया। पीड़ित का परिवार अपनी आपबीती जिले के वरिष्ठ अधिकारियों को सुनाने के लिए रात को ही दमोह पहुंचा।

-इसके बाद पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने मामले को संज्ञान में लेते हुए आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं। एडीशनल एसपी ने बताया कि मामला कायम करने के बाद किशोरी की एमएलसी कराई जा रही है।