Home | Madhya Pradesh News | Bhopal News | a boy committed suicide by cigarette addiction

भोपाल

भोपाल

Sushma Barange| Last Modified - Nov 16, 2017, 04:26 PM IST

a boy committed suicide by cigarette addiction
भोपाल

भोपाल। गौतम नगर इलाके में 19 साल के युवक ने सिगरेट और गुटखा की लत नहीं छोड़ पाने से दुखी होकर फांसी लगा ली। पिता ने स्टोर रूम का दरवाजा तोड़कर शव बरामद किया। लत छुड़ाने के लिए पिता उसका इलाज भी करा रहे थे। युवक ने फांसी लगाने के एक सप्ताह पहले पिता से कहा था - पापा आप लोग अच्छे हैं। मेरी सिगरेट और गुटखा की लत नहीं छूट रही है।


-नारियलखेड़ा निवासी 19 वर्षीय लोकेश यादव पिता भागचंद यादव प्राइवेट काम करता था। बुधवार को काम पर नहीं जाने के चलते भागचंद के पास फोन आया। उन्होंने लोकेश को कॉल किया, तो घर के अंदर से ही मोबाइल की घंटी सुनाई दी। रिंग टोन स्टोर रूम से आ रही थी। उन्होंने दरवाजा खटखटाया, लेकिन लोकेश ने कोई जवाब नहीं दिया। इसी आशंका के चलते उन्होंने दरवाजा तोड़ा, तो लोकेश फंदे पर मिला। सूचना मिलते ही गौतम नगर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। एसआई कर्मवीर कुमार के अनुसार मृतक के पास कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। न ही उसने कुछ लिख कर छोड़ा है। रात को वह मम्मी-पापा के साथ कमरे में सो गया था, जबकि बड़ा भाई रोहित बाहर गया हुआ था। रात करीब 1 बजे वह अंतिम बार देखा गया था।

डॉक्टर को भी दिखाया
लोकेश के पिता ने पुलिस को बताया कि 7 दिन पहले लोकेश ने उन्हें बताया था कि वह सिगरेट और गुटखा छोड़ना चाहता है। आप लोग बहुत अच्छे हैं। कोई कुछ नहीं लेता है, लेकिन पापा मैं यह लत नहीं छोड़ पा रहा हूं। उन्होंने उसे कहा कि कोई बात नहीं है। बेटा इतनी बड़ी बात नहीं है। हम इसे छुड़ाने में तुम्हारी मदद करेगी। लोकेश को एक डॉक्टर को भी दिखाया था। डॉक्टर ने भी लोकेश को समझाया था कि कोई दिक्कत नहीं है। धीरे-धीरे करके इसे छोड़ा जा सकता है, लेकिन वह उसके बाद से ही मानसिक तनाव में था।

 

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now