Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» Bhopal Dushkaram Case Update

भोपाल

भोपाल

Sushma Barange | Last Modified - Nov 03, 2017, 08:22 PM IST

भोपाल। कोचिंग छात्रा के साथ गैंगरेप के मामले में सरकार ने तीन टीआई को सस्पेंड कर दिखावे की कार्रवाई की है। गैंगरेप जैसे गंभीर मामले में अफसरों को बचाने के लिए ही उन्हें सस्पेंड किया गया है। कानून के मुताबिक शिकायत सुनकर एफआईआर दर्ज न करने वाले अफसरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने का प्रावधान है।

(सुबह 11.00 बजे) राजनीतिक पार्टियों ने किया विरोध प्रदर्शन...
गैंगरेप की घटना की रिपोर्ट लिखने में लापरवाही बरतने से नाराज कांग्रेसियों ने जीआरपी थाने का घेराव किया। इस दौरान उन्होंने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह से इस्तीफे की मांग की। हंगामे के दौरान कांग्रेसियों और पुलिसकर्मियों के बीच झड़प भी हुई। उधर, भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) की प्रदेश सचिव बादल सरोज ने दुष्कर्म के मामले में मुख्यमंत्री से राज्य के गृहमंत्री को पद से हटाने की मांग की है। इसके साथ ही राष्ट्रीय महिला आयोग ने मामले को संज्ञान में लेते हुए डीजीपी ऋषिकुमार शुक्ला को पत्र लिखकर समय पर एफआईआर नहीं लिखने वाले पुलिस अफसरों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

(दोपहर 12.00) सीएम को आना पड़ा मैदान में...
सीएम शिवराज सिंह चौहान की सख्ती के बाद पुलिस कार्रवाई में तीन टीआई, दो एसआई को सस्पेंड कर दिया गया है। जबकि एमपी नगर सीएसपी कुलवंत सिंह को पीएचक्यू अटैच कर दिया गया है। सस्पेंड होने वाले टीआई एमपी नगर संजय सिंह, हबीबगंज रविंद्र यादव और और जीआरपी टीआई मोहित सक्सेना शामिल हैं। एमपी नगर थाने के एसआई आरएन टेकाम, हबीबगंज जीआरपी थाने के एसआई धुर्वे को भी गुरुवार को सस्पेंड कर दिया गया था। यह कार्रवाई डीआईजी क्राइम अंगेस्ट वीमेन लाड की रिपोर्ट के आधार पर की गई है।

(दोपहर 12.30) एसआईटी को सौंपी जांच
सीएम ने हाई लेवल जांच के लिए एसआईटी को जांच सौंपी है। उन्होंने पुलिस के आला अधिकारियों से घटना की जानकारी ली और लापरवाही बरतने वालों पर तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही इस मामले की फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई के लिए भी पुलिस अधिकारियों को कहा है। सीएम ने घटना को लेकर चिंता जताते हुए राजधानी और प्रदेश भर की कानून व्यवस्था सख्त करने के निर्देश दिए हैं।

(दोपहर 02.00 बजे) छात्रा चौथे आरोपी की पहचान के लिए थाने पहुंची
हबीबगंज पुलिस चौथे आरोपी की पहचान नहीं कर पा रही थी, जिसके बाद छात्रा को उसकी पहचान के लिए थाने बुलाया गया था। आरोपी की पहचान करने शुक्रवार को छात्रा माता-पिता के साथ थाने पहुंची थी, हालांकि उसने चौथे आरोपी को पहचानने से इंकार कर दिया।

(दोपहर 03.00) आईजी लॉ एंड ऑर्डर ने कहा ये...
इस मामले में लॉ एंड आर्डर आईजी मकरंद देउस्कर ने मीडिया को बताया कि, लापरवाही बरतने वाले हबीबगंज टीआई रविंद्र यादव, एमपी नगर टीआई संजय बेस, जीआरपी थाना टीआई मोहित सक्सेना, एसआई उइके और एमपी नगर सीएसपी कुलवंत सिंह को हटा दिया गया है। इसके साथ ही एसआईटी का गठन किया गया है। सीएनडब्ल्यू डीआईजी सुधीर लाड़ इसकी विवेचना करेंगे। मामले को गंभीर अपराधों की श्रेणी में रखा गया है साथ ही मुख्य आरोपी को पकड़ने के लिए टीमें लगी हुई है।

(शाम 04.00 बजे) तीन आरोपियों को कोर्ट में किया पेश...
गैंगरेप के तीन आरोपियों को पुलिस ने शुक्रवार शाम मजिस्ट्रेट शालू सिरोही की कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने दो आरोपियों को जेल भेज दिया, जबकि तीसरे को पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। आरोपियों के साथ मारपीट की संभावना को देखते हुए कोर्ट में भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। वहीं, चौथे आरोपी की तलाश में तीन थानों की स्पेशल टीम को लगाया गया है।


यह था मामला...
हबीबगंज आरपीएफ थाने से महज 100 मीटर दूर पीएससी की कोचिंग से लौट रही 19 साल की छात्रा से चार दरिंदों ने 3 घंटे तक ज्यादती की। मामला मंगलवार शाम 7 बजे का है। छात्रा के बयान के अनुसार चारों आरोपियों ने 6 बार छात्रा के साथ ज्यादती की थी। इसके बाद आरोपियों ने छात्रा के साथ मारपीट की और उसे बेहाल कर पुल के नीचे ही छोड़कर भाग गए। रेप के बाद आरोपी छात्रा का मोबाइल फोन, कान के बूंदे और घड़ी भी लूट कर ले गए थे। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रेप के दौरान छात्रा बेहोश हो गई थी, जिसे मरा समझकर चारों मौके से भाग गए। रात 9 बजे छात्रा को होश आया और वह रात दस बजे आरपीएफ थाने पहुंची। थाने से छात्रा ने अपने पिता को फोन कर पूरा वाकया बताया था।


दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×