Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» CM Suspends 3 Policemen Posted On Duty

३ आरोपियों को आज कोर्ट में पेश किया गया

३ आरोपियों को आज कोर्ट में पेश किया गया

Sushma Barange | Last Modified - Nov 03, 2017, 05:12 PM IST

भोपाल. राजधानी के हबीबगंज में 31 अक्टूबर को हुए गैंगरेप केस की जांच एसआईटी करेगी। सीएम शिवराज सिंह ने शुक्रवार को एक हाईलेवल मीटिंग में इसके आदेश दिए। शिवराज ने अफसरों से कहा कि इस मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में कराई जाए। मामले पर सख्त रुख अपनाते हुए सरकार ने पांच पुलिस अफसरों को सस्पेंड कर दिया। एक अफसर को पुलिस हेडक्वार्टर में अटैच किया गया है। बता दें कि 31 अक्टूबर की शाम कोचिंग से लौटते वक्त लड़की से चार लोगों ने गैंगरेप किया था। 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है जबकि चौथा फरार है। हैरानी की बात ये है कि जब इस मामले पर जीआरपी एसपी अनीता मालवीय से सवाल किए गए तो वो मीडिया के सामने हंसती नजर आईं। घटना के दो दिन बाद सरकार ने हटाकर पुलिस मुख्यालय अटैच कर दिया है।


सीएम ने की हाई लेवल मीटिंग

- मामला सामने आने और पुलिस कार्रवाई पर सवाल उठने के बाद शुक्रवार को सीएम ने तमाम बड़े अफसरों के साथ हाई लेवल मीटिंग की। सीएम ने पूरे मामले की जानकारी मांगी। उन्होंने लापरवाही बरतने वाले अफसरों पर फौरन कार्रवाई के आदेश दिए।
- सीएम ने कहा कि इस केस की जांच एसआईटी करेगी। इसके अलावा मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में कराने के भी आदेश दिए। सीएम ने कहा कि राज्य में लॉ एंड ऑर्डर के हालात सुधारने के लिए सख्त कदम उठाए जाएं।

होम मिनिस्टर को हटाने की मांग

- कांग्रेस ने शुक्रवार को जीआरपी थाने के सामने प्रदर्शन किया। पुलिस से उनकी झड़प भी हुई। कांग्रेस के अलावा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने प्रदर्शन किया। दोनों पार्टियों की मांग थी कि होम मिनिस्टर भूपेंद्र सिंह को हटाया जाए।
- नेशनल वुमन कमीशन ने डीजीपी ऋषिकुमार शुक्ला को लेटर लिखा। इसमें मांग की गई है कि मामले में एफआईआर दर्ज नहीं करने वाले पुलिस अफसरों पर सख्त कार्रवाई की जाए।
- दूसरी तरफ, गिरफ्तार किए गए चार में तीन आरोपियों को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। दो को जेल भेज दिया गया। जबकि, तीसरे को पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। चौथे आरोपी की तलाश की जा रही है।

सवालों पर हंसती नजर आईं एसपी

- जीआरपी एसपी अनीता मालवीय ने शुक्रवार को मीडिया से इस मामले पर बातचीत की। पूछे गए सवालों पर वो हंसते हुए जवाब देती रहीं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने हंसते हुए कहा- हमारे पास जब रिपोर्ट आई। हमने केस दर्ज कर लिया। इस मुद्दे ने तो सिर में दर्द कर दिया है।
जानकारी के अनुसार एसपी अनीता मालवीय (रेलवे पुलिस) ने गुरुवार को मीडिया को इस मामले की जानकारी दी। इस दौरान वे लगातार मुस्कुरा रही थीं, उनके रवैये से यह बिलकुल नहीं लग रहा था कि वे संवेदनशील मुद्दे को लेकर जरा भी गंभीर हैं। बातों ही बातों में उन्होंने मीडिया के सामने यह तक कह दिया कि, 'हमारे पास जब रिपोर्ट आई, हमने मामला दर्ज कर लिया। इस मुद्दे ने तो सिर में दर्द कर दिया है।'

क्या है मामला?

- घटना 31 अक्टूबर शाम की है। कोचिंग सेंटर से लौट रही 19 साल की लड़की को चार बदमाशों ने रोका। उसके साथ मारपीट और लूटपाट के बाद करीब की झाड़ियों में ले जाकर गैंगरेप किया। घटना स्थल से आरपीएफ चौकी (रेलवे पुलिस फोर्स) सिर्फ 100 मीटर दूर है।
- आरोपियों ने विक्टिम का मोबाइल फोन और कुछ जूलरी भी लूटी। पुलिस के मुताबिक, आरोपियों को लगा कि लड़की की मौत हो गई है तो वो उसे छोड़कर भाग गए।
- होश आने पर विक्टिम आरपीएफ थाने पहुंची। वहां से उसने पिता को घटना के बारे में जानकारी दी। उसके पिता आरपीएफ में ही हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×