Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» Husband Said To The Family, The Vein Of The Head Fell

घरवालों से कहा, सिर की नस फटी, इधर चुपचाप अंतिम संस्कार में जुट गया पति

घरवालों से कहा, सिर की नस फटी, इधर चुपचाप अंतिम संस्कार में जुट गया पति

Sumit Pandey | Last Modified - Nov 24, 2017, 07:07 PM IST

भोपाल। दमोह जिले के बांसातारखेड़ा गांव में एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पति चुपचाप अंतिम संस्कार कर देना चाहता था, तभी उसकी पत्नी के घर वाले पहुंच गए। उन्होंने देखा कि महिला के गले में घाव के निशान हैं तो वह भड़क गए। उन्होंने पुलिस को फोन करके बुला लिया। पुलिस ने महिला का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करने के लिए दमोह जिला अस्पताल भेज दिया।


असल में, यह पूरा मामले को संदिग्ध माना जा रहा है। पुलिस ने मर्ग कायम कर पीएम कराया है। इस मामले की जांच सीएसपी आर राजन कर रहे हैं। उधर पति ने मायके पक्ष के लोगों को फोन पर सिर में दर्द होने और नस फट जाने को मौत की वजह बताया था। मगर जब परिजन सुबह मौके पर पहुंचे तो पड़ोसियों ने मौत की वजह फांसी बताई। जबकि महिला के गले में फांसी लगने के हरे नीले घाव हैं।

- महिला की हालात देखकर मायके पक्ष और ससुराल पक्ष के लोगों में तनातनी हो गई। मायके पक्ष के लोग ससुराल पक्ष पर हत्या करने का आरोप लगा रहे थे। मौके पर टीआई विजय मिश्रा, नायब तहसीलदार सहित पुलिस बल मौके पर पहुंचा। काफी समझाइश के बाद दोपहर २ बजे महिला के शव को पीएम के लिए दमोह लाया गया।

- जानकारी के अनुसार बांसातारखेड़ा गांव में बुधवार की शाम सोनम पति गणेश रैकवार 22 ने फांसी लगा ली। उसका एक दो माह का दुधमुंहा बच्चा भी है। जो घर में ही लेटा था। घटना की जानकारी ससुराल पक्ष के लोगों ने महिला के घर वालों को दी। जिसमें बताया गया कि उसके सिर की नस फट गई है, लेकिन जब परिजन मौके पर पहुंचे तो उसके गले में निशान व हाथ पैर में खरोंचों के निशान देखकर हत्या की आशंका जताई जा रही है।

ऐसे हुआ बवाल...
एक सप्ताह से मायके में थी, सोमवार को ही गई थी ससुराल: सोनम का मायका दमोह के पलंदी चौराहा के पास ढिमरोला मोहल्ले में है, वह करीब एक सप्ताह से अपने मायके में थी और सोमवार को ही अपने ससुराल गई थी। मृतिका सोनम के चाचा बसंत रैकवार ने बताया कि सोनम की शादी करीब डेढ़ साल पहले हुई थी। परिवार में पति के अलावा सास, ससुर हैं। इस दौरान कभी कोई शिकायत प्राप्त नहीं हुई, लेकिन बुधवार की शाम करीब 5 बजे उसके पति का फोन आया कि सोनम के सिर की नस फटने से उसकी मौत हो गई है।

ससुराल पक्ष ने सोनम द्वारा फांसी लगाने की बात छिपाई गई और सुबह उसके अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू कर दी गई। इसी बीच मृतिका की मां सहित अन्य महिलाएं उसके ससुराल गईं और बेटी के पास बैठकर देखा तो उसके गले में नील के निशान पड़े थे, साथ ही हाथ पैर में खरोंच भी। जब इस संबंध में परिवार वालों से पूछा तो उन्होंने कुछ नहीं बताया। बाद में बताया कि तुम्हारी बेटी ने फांसी लगा ली है। इसलिए निशान पड़ गया है।


दो माह के बच्चे से छिना मां का साया
सोनम की मौत के बाद उसका दो माह के दुधमुंहे बच्चे से मां का साया उठ गया है। जिस स्थान पर मां मृत अवस्था में पड़ी थी, उसी जगह उसका बेटा दूध की बॉटल लिए रो रहा था। हालांकि बाद में बच्चे के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए प्रशासन द्वारा उसे जिला अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड में रखा गया है। ताकि उसकी उचित रूप से देखभाल हो सके।



दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: family se khaa- sir ki ns fti, idhr chupchaap antim snskar mein jut gaya pti
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×