--Advertisement--

लाइब्रेरियन कर रहे बच्चों के लिए कुछ ऐसा प्लान कि रीडिंग हैबिट डेवलप हो

लाइब्रेरियन कर रहे बच्चों के लिए कुछ ऐसा प्लान कि रीडिंग हैबिट डेवलप हो

Dainik Bhaskar

Nov 24, 2017, 06:49 PM IST
अमृता पटवर्धन, एजुकेशन हेड टाट अमृता पटवर्धन, एजुकेशन हेड टाट

भोपाल। लाइब्रेरियन को लाइब्रेरी में अधिकांश रीडर्स ने बुक इश्यू, रिटर्न या स्टॉक मेंटेन करते देखा होगा, लेकिन क्या कभी किसी लाइब्रेरियन को कुछ क्रिएटिव करते देखा है, हम में से अधिकांश लोगों का जवाब होगा नहीं। लाइब्रेरियन छह से 12 साल के बच्चों में पढ़ने का शौक पैदा करने, रीडिंग को मजेदार और एंजॉय करने की स्थिति में लाने के लिए काम कर सकते हैं। यह कहना है, टाटा ट्रस्ट, हेड एजुकेशन अमृता पटवर्धन का। वे शुक्रवार को भोपाल में लाइब्रेरी एजुकेटर्स कोर्स के समापन के मौके पर मौजूद थी। दैनिक भास्कर से बातचीत में उन्होंने बताया कि यह सात महीने का कोर्स था, जिसमें लाइब्रेरी से जुड़कर काम कर रहे लोगों ने भाग लिया, जिसमें मप्र सहित राजस्थान, उड़ीसा, राजस्थान, गुजरात और झारखंड से प्रतिभागी शामिल हुए थे। इस कोर्स का नया बैच जनवरी में शुरू होगा।


किस्से-कहानियां, कविता पढ़े इसके लिए तैयारी...
अमृता कहती हैं, पढ़ने से मतलब टेक्स्ट बुक रीडिंग से नहीं बल्कि बच्चे पिक्टोरियल, कहानी, कविता, किस्से पढ़ने-सुनने से है। बच्चे यह सब पढ़े इससे पहले जरुरी है कि कोई उन्हें यह बताने वाला हो कि पढ़ने में कितना मजा आता है। इसके लिए लाइब्रेरियन को टीचर्स के साथ मिलकर यह तय करना सीखा रहे हैं कि किस बच्चे के लिए किस तरह का लिटरेचर पढ़ना अच्छा होगा। क्या पढ़ना है, कैसे पढ़ना है, जब बच्चे यह सीख जाएंगे तो लिटरेचर में उनका इंटरेस्ट विकसित होगा। इसका फायदा उनकी अकादमिक योग्यता पर पड़ेगा साथ ही उनकी भाषा समृद्ध और थॉट प्रोसेस बनेगी।

रीडिंग एंजॉय करें बच्चे इसके तरीके टीचर्स के लिए...
- टीचर्स छोटे बच्चों आवाज के उतार-चढ़ाव के साथ कहानी सुनाएं
- किताब सुनने-पढ़ने के बाद बुक टॉक
- किताब पर बेस्ड ट्रेजर हंट
- ड्रामेटिक प्रजेंटेशन
- कैरेक्टर रोल प्ले
- किताब का टाइटल बनाना
- किताब पढ़ने के बाद नया कवर पेज बनना
- किताब पढ़ने के बाद चित्र बनाना

8 राज्यों में चल रहा है काम
टाटा ट्रस्ट के इस कोर्स के तहत 8 राज्यों में यह काम चल रहा है, जिससे 40,000 बच्चे रीडिंग से जुड़े हैं। आदिवासी इलाकों में फिजिकल लाइब्रेरी भी बनाई गईं हैं। लगभग 400 किस्तें-कहानी और कविता की किताबें हिंदी-अंग्रेजी में तैयार की गई हैं।

X
अमृता पटवर्धन, एजुकेशन हेड टाटअमृता पटवर्धन, एजुकेशन हेड टाट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..