--Advertisement--

मुझे परिवार से कोई मतलब नहीं, अब इन्हीं के साथ जीना और मरना है

मुझे परिवार से कोई मतलब नहीं, अब इन्हीं के साथ जीना और मरना है

Dainik Bhaskar

Nov 23, 2017, 12:42 PM IST
तीन दिन पहले घर से भागा था प्रे तीन दिन पहले घर से भागा था प्रे

भोपाल। छतरपुर जिले के बिलहरी गांव से 19 नवंबर की रात घर से भागे कपल को मध्य प्रदेश पुलिस ने उत्तर प्रदेश पुलिस की मदद से गाजियाबाद से गिरफ्तार किया। गिरफ्तार होने के बाद प्रेमी जोड़े ने पुलिस को आर्य समाज मंदिर से शादी करने के दस्तावेज दिखाए। जिसके बाद पुलिस ने दोनों को बुधवार दोपहर एसडीएम कोर्ट में पेश कर बयान दर्ज कराए। युवती ने पुलिस से कहा कि आप मेरी तीन बातें साफ-साफ सुन लीजिए- दोनों साथ रहेंगे, साथ जियेंगे और साथ मरेंगे। इसके बाद पुलिस ने अपनी कस्टडी में प्रेमी जोड़े को युवक के किसी रिश्तेदार के यहां भेज दिया।

छोटे भाई-बहन सड़क पर आकर रोने लगे

इसी बीच एसडीएम कार्यालय से लेकर पुलिस थाना तक लड़की के परिवार के लोग लड़की को छोटे-भाई बहन का हवाला देते रहे, लेकिन उसने परिवार की एक नहीं सुनी। उसने अपने प्रेमी के साथ जाने का फैसला किया। गांव से तीन दिन पहले आरती रैकवार अपने प्रेमी जीतेंद्र सोनी के साथ घर से भाग गए थे। जिसके बाद दोनों परिवार के लोगों ने थाना में आकर एक-दूसरे के खिलाफ गायब करने के आवेदन दिए थे। पुलिस ने युवती पक्ष के आवेदन पर गुमशुदगी का मामला कायम किया था, साथ ही युवक पक्ष के आवेदन को जांच में ले लिया था।

फैमिली को पसंद नहीं तो मार दें गोली

एसडीएम कोर्ट में और मीडिया को दिए बयान में आरती ने कहा कि अब इन्हीं के साथ रहेंगे और इन्हीं के साथ मरेंगे। अगर परिवार वालों को हमारा साथ मंजूर नहीं तो हमें गोली मार दो, लेकिन हम अब तो इन्हीं के साथ रहेंगे।

- मामले की जांच कर रही एसआई प्रतिभा श्रीवास्तव को सूचना मिली कि दोनों गाजियाबाद में हैं, तो मंगलवार की शाम एसआई प्रतिभा श्रीवास्तव ने आरक्षक हरदीन एवं आरक्षक हरिचरण के साथ रवाना होकर गाजियाबाद पुलिस की मदद से दोनों युवक-युवती को गिरफ्तार कर लिया। बुधवार की दोपहर एसआई प्रतिभा श्रीवास्तव ने युवक-युवती दोनों को एसडीएम बीबी गंगेले की कोर्ट में पेश किया। जहां पर दोनों के बयान दर्ज किये गए, जिसमें युवती ने अपनी मर्जी से युवक के साथ जाने और शादी करने के बयान दर्ज कराए।

आर्य समाज मंदिर से कर ली मैरिज

युवक जीतेंद्र सोनी और युवती आरती रैकवार ने बताया कि वह दोनों अपनी मर्जी से घर से भागे हैं। जितेंद्र ने बताया कि कुछ दिन बाद आरती की गोदभराई होनी थी और गोदभराई हो जाने पर भागने से इनकी बदनामी होती इसलिए दोनों ने गोदभराई से पहले भागकर शादी करने का फैसला किया। दोनों 19 नवंबर को भागने के बाद गाजियाबाद में स्थित आर्य समाज मंदिर पहुंचे, वहां दोनों ने अपनी मर्जी से पूरे रीति-रिवाज के साथ शादी रचाई।

आगे की स्लाइड्स में देखें और फोटोज...

X
तीन दिन पहले घर से भागा था प्रेतीन दिन पहले घर से भागा था प्रे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..